जल्द गर्भधारण करने के लिए इस 7 विटामिन का सेवन जरूर करें महिलाएं

अगर कोई महिला गर्भधारण करने में असक्षम हैं, तो इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि आप अपने लाइफस्टाइल और खान-पान में बदलाव करके इस समस्या का हल निकाल सकती हैं। आमतौर पर, आपके गर्भधारण का असर मुख्य रूप से आपके खान-पान और विटामिन पर निर्भर करता है। क्योंकि, आपके गर्भधारण के लिए कुछ ऐसे जरूरी विटामिन हैं जिसका सेवन किया जाना चाहिए।

गर्भधारण के लिए क्यों जरूरी है विटामिन?

गर्भधारण करने के लिए माँ के शरीर को पहले तैयार करना पड़ता है ताकि आपके गर्भ में पल रहे शिशु के लिए सभी जरुरी पोषक तत्व मिल सकें। क्योंकि, यदि आपका शुरूआती आहार ठीक नहीं है, तो यह आपके बच्चे को प्रभावित कर सकता है। इसलिए एक स्वस्थ्य गर्भावस्था की शुरुआत के लिए आपको विटामिन और खनिज के साथ-साथ विशेष रूप से फॉलिक एसिड और आयरन युक्त खाद्य पदार्थ को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

गर्भधारण के लिए कौन-कौन से विटामिन हैं जरूरी ?

फॉलिक एसिड

एक स्वस्थ्य गर्भावस्था की शुरुआत के लिए आपको फॉलिक एसिड का सेवन जरूर किया जाना चाहिए। क्योंकि, यह एक बी विटामिन है, जो स्वाभाविक रूप से गहरे हरे रंग की पत्तेदार सब्जियों, संतरों, साबुत अनाज और दालों जैसे खाद्य पदार्थों में फोलेट के रूप में होता है। इसके सेवन से आपके अजन्मे शिशु में स्पाइना बिफिडा जैसे तंत्रिका ट्यूब दोष (न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट-NTD) को विकसित होने से बचाता है। इसके अलावा, यह आपको आसानी से गर्भधारण करने में मदद करता है।

आयरन

वह महिलाएं जो गर्भधारण करने में असक्षम हैं उन्हें आयरन का सेवन करना चाहिए। क्योंकि, यह आपके हेल्थ के लिए अच्छा होता है। हालाँकि, आयरन की आवश्यकता हीमोग्लोबिन बनाने के लिए होती है। हीमोग्लोबिन लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाने वाला प्रोटीन है, जो शरीर के विभिन्न अंगों तथा ऊतकों में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। जब आप गर्भवती होती हैं, तो आपके शरीर को सामान्य से 50 प्रतिशत अधिक रक्त वहन करना पड़ता है। अत: आपकी आयरन की आवश्यकता भी उसी अनुसार बढ़ जाती है। यदि आपको आहार से आयरन की उतनी मात्रा नहीं मिल पा रही, जितनी शरीर को जरूरत है, तो आपको आयरन की कमी या आयरन की कमी वाला एनीमिया हो सकता है। कुछ लोग इसे खून की कमी भी कहते हैं।

कैल्शियम

गर्भधारण के लिए जो सबसे जरूरी विटामिन है वह है कैल्शियम क्योंकि, इसके सेवन से हड्डियों को मजबूती मिलती है। ऐसे में, अगर आप गर्भधारण की कोशिश कर रही हैं तो इसके लिए आपको प्रति दिन 1,000 मिलीग्राम कैल्शियम की आवश्यकता पड़ती है। ऐसे में, आप मलाईरहित (स्किम्ड) दूध, दही, छाछ, पनीर। इन खाद्य पदार्थों में कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन बी -12 की उच्च मात्रा होती है।

विटामिन बी 6

इसका प्रयोग आप गर्भधारण करने के बाद ले सकती हैं। हालाँकि, एक शोध में यह बात सामने आई हैं कि जो महिलाएं प्रेग्नेंट होने से पहले 10 मिलीग्राम विटामिन बी 6 रोजाना लेती हैं, उन्हें गर्भधारण के बाद उल्टी और मतली की समस्या से राहत मिलती है।

प्रोटीन

प्रोटीन भी आपके शरीर को मजबूती प्रदान करता है, ऐसे में आप साबुत अनाज, दाल और मेवे के जरिए इसकी पूर्ति कर सकती हैं। अगर आप मांस नहीं खाती हैं, तो ये सब प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं। शाकाहारीयों को प्रोटीन के लिए प्रतिदिन 45 ग्राम मेवे और 2/3 कप फलियों की आवश्यकता होती है।

जिंक

गर्भवती होने के लिए न केवल आपको बल्कि आपके पति को भी ज़िंक का सेवन करना चाहिए। एक शोध में यह बात सामने आई है कि ज़िंक महिलाओं में ओवुलेशन और फर्टिलिटी को बढ़ावा देता है, वहीं पुरुषों में यह सीमेन और टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन करता है।

ओमेगा 3 फैटी वाले आहार

गर्भवती होने की इच्‍छा रखने वाली महिलाओं को बादाम, अखरोट और एप्रीकॉट को सेवन भी बढ़ा देना चाहिए। इसमें पाया जाने वाला ओमेगा-3 फैटी एसिड गर्भधारण करने वाली महिलाओं के लिए जरूरी होता है।

फाइबर

फाइबर युक्त आहार पचने में आसान होते हैं और इनके सेवन से पाचन क्रिया सही रहती है। जिससे शरीर में कोई भी विषैला तत्‍व नहीं रहता है। इसलिए गर्भधारण की इच्‍छा रखने वाली महिलाओं को अपने आहार में साबुत अनाज, ब्राउन राइस, गेहूं की ब्रेड, बींस और अलसी के बीज शामिल करना चाहिए।

मॉर्डर्न मोना- मदर लाइफस्टाइल! एक दैनिक कॉलम, जहाँ महिलाओं से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है।  जैसे- स्वास्थ्य, फैशन, फिटनेस, बच्चों का रख-रखाव, मनोरंजन, सेक्स आदि की जानकारी के लिए आप अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/communityपर भेज सकते हैं।

loader