यह 5 संकेत बताते हैं कि आपको समय से पहले होने वाली है डिलीवरी

गर्भावस्था के दौरान, महिलाओं को शुरू से ही अपने शरीर में होने वाले हर बदलावों का ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि, इन दिनों आपमें कुछ बदलाव अच्छे होते हैं तो कुछ बुरे। इसलिए, आज हम आपको समय से पहले होने वाली है डिलीवरी के कुछ संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका ध्यान हर गर्भवती महिला को रखनी चाहिए।

प्रीमैच्योर लेबर क्या है ?

यह आपको पता है कि एक हैल्दी बेबी का जन्म गर्भावस्था के 37 हफ्ते पूरे होने के बाद होता है। लेकिन, कुछ मामलों में जब आपकी डिलीवरी 37 हफ्ते से पहले हो जाता है, तो प्रीमैच्योर लेबर या समय से पहले शिशु का जन्म भी कहते हैं। जो शिशु के लिए अच्छा नहीं माना जाता है।

शिशु पर क्या असर पड़ता है ?

यह बिल्कुल सच है कि जब आपका बच्चा गर्भ में पूरे नौ महीने रहता है तब वह काफी हैल्दी पैदा होता है। लेकिन, जब वह अपने समय से पहले जन्म लेता है तब उसमें कई तरह की परेशानियाँ देखने को मिलती हैं जैसे कि शिशु का पूर्ण तरीके से विकास नहीं हो पाता है। जिसके कारण शिशु को सांस लेने में भी तकलीफ होती है, और इससे भी जो अधिक समस्या होती है वह है इम्युनिटी का कमजोर होना। जिसके कारण शिशु को कोई भी बीमारी आसानी से अपनी चपेट में ले सकता है।

प्रीमैच्योर लेबर के क्या लक्षण हैं ?

यदि आपमें इस तरह के लक्षण नज़र आ रहे हों तब आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है, जो निम्न हैं-

– सामान्य से अधिक मात्रा में स्राव का होना।

– जब आपके स्राव का रंग हल्के पीले और लाल हो रहे हों।

– बहुत अधिक मात्रा में निचे की ओर से खून का निकलना।

– पेट के निचले हिस्से में अधिक दर्द होने पर, या फिर पीरियड्स के दौरान होने वाले ऐंठन जैसे लक्षण नज़र आने पर।

– निचे की ओर बहुत अधिक दवाब महसूस होने आदि पर आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि, इस तरह के संकेत समय से पहले प्रसव के हो सकते हैं।

समय से पहले प्रसव होने के क्या कारण हैं ?

जब किसी महिला में इस तरह की स्थिति उत्पन्न होती है तब  उनमें प्रीमैच्योर लेबर की संभावना बढ़ जाती है, जैसे कि-

– जब आपके गर्भ में एक या उससे अधिक बच्चे हों यानि कि जब आप जुड़वाँ बच्चे की माँ बनने वाली होती हैं, तब इस स्थिति में बच्चे का जन्म समय से पहले हो सकता है।

– जब किसी गर्भवती महिला का एमनियोटिक थैली अचानक से फट गया हो तब वह समय से पहले शिशु को जन्म देती हैं। क्योंकि, बच्चे इस थैली में लिपटे होते हैं, जैसे ही यह थैली फटती है इसका साफ मतलब है कि शिशु अब बाहर आने वाला है।

– अगर आपका वजन कम है तब ऐसे में भी आपको समय प्रसव होने का खतरा बना रहता है। इसलिए अपने खान-पान पर ध्यान रखें।

हालाँकि, इस तरह के लक्षण जब भी किसी गर्भवती महिला में हो तब उन्हें अधिक समय तक इंतज़ार नहीं करना चाहिए। बल्कि, डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

मॉर्डर्न मोना- मदर लाइफस्टाइल! एक दैनिक कॉलम, जहाँ महिलाओं से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है।  जैसे- स्वास्थ्य, फैशन, फिटनेस, बच्चों का रख-रखाव, मनोरंजन, सेक्स आदि की जानकारी के लिए आप अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/community पर भेज सकते हैं।

Feature Image Source: www.thesun.co.uk

 

loader