प्रेग्नेंसी में पेट से सम्बंधित समस्याओं से निपटने के लिए, न करें इन चीजों का सेवन

प्रेग्नेंसी में अक्सर पेट में, अपच और गैस की समस्‍या आम है। प्रेग्नेंसी के शुरूआती दिनों में, यह काफी ज्‍यादा होती है, ऐसे में महिला को काफी समस्‍या होती है और उसे सारा दिन अजीब सा महसूस होता रहता है। ऐसा प्रोजेस्टेरोन हॉर्मोन के स्तर में बढ़ोत्तरी, पेट की मांसपेशियों में खिचाव, और पाचन तंत्र के सही तरीके से काम न कर पाने के कारण, होता है।

खाना खाने के बाद, जो खाना पच नहीं पाता, उसे बड़ी आंत में उपस्थित बैक्टीरिया, तोड़ देते हैं, जिससे पेट में गैस बनती है। भोजन में उपस्थित, कुछ कार्बोहाइड्रेट, जो अवशोषित नहीं हो पाते, इन्हीं के कारण, पेट में गैस बनती हैं।

चुकंदर, एस्परैगस, सेम, ब्रोकोली, स्प्राउट्स, गोभी, लीक और प्याज, ऐसी चीजें हैं, जिन्हें खाने से आपको पेट से सम्बंधित समस्या होती है।  

सेब, खुबानी, चेरी, आम, नाशपाती, बेर, आड़ू और तरबूज़ ,ये सभी ऐसे फल हैं, जिसमें अवशोषित न होने वाला कार्बोहायड्रेट पाया जाता है।

इन सभी चीजों के अलावा, आप हर प्रकार की फलों और सब्जियों का सेवन कर सकती हैं। क्योकि प्रेग्नेंसी में फल और सब्जियां खाना बहुत जरुरी है। ऊपर बताई गयी चीजों को आप कम मात्रा में खा सकती है। इसके अलावा, ऐसी कोई भी चीज जो आराम से पच जाती हो और गैस नहीं बनाती हो, खा सकती हैं। केले, ब्लूबेरी, अंगूर,  स्ट्रॉबेरी, टमाटर, गाजर, अजवाइन, हरी प्याज, हरी बीन्स, मीठी मकई और सफ़ेद गाजर, ऐसी चीजें हैं, जो आराम से पच जाती हैं।

कुछ कृत्रिम मीठा, आपकी सेहत के लिए सही नहीं होता और इससे पेट सम्बंधित समस्याएँ भी हो जाती हैं। इसलिए बेहतर है कि इनका इस्तेमाल न करें।

वसा वाली चीजें खाने से पेट ख़राब तो नहीं होता, लेकिन इससे खाना पचने की प्रक्रिया धीरे हो जाती है और गैस बनने लगता है। इसलिए इन अवस्था में कम फैट वाली चीजों का इस्तेमाल करें।

बहुत ज्यादा फाइबर वाली चीजें जैसे- चोकर, खाने से आपको और ज्यादा पेट सम्भंधित समस्या हो सकती है। कुछ लोगों को दूध या दूध की बनी चीजों को पचाने में, परेशानी होती है और उन्हें गैस की समस्या होने लगती है, इसलिए इन सभी बातों पर भी विचार कर लें। कुछ दिनों तक अपने खान-पान पर ध्यान दें और देखे कि विशेषकर क्या खाने से आपको पेट से सम्बंधित समस्या हो रही है ,उससे दूर रहें।

 

loader