प्रेगनेंसी में नींद को बाधित करने वाली समस्याएं

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के जीवन का सबसे महत्वपूर्ण और मुश्किल हिस्सा होता है। जहाँ फर्स्ट ट्राइमेस्टर में बहुत ध्यान रखने की जरूरत होती हैं, वहीं दूसरा ट्राइमेस्टर आराम से निकल जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि, आपका शरीर पहले ट्राइमेस्टर में एडजेस्ट हो जाता है। प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली बहुत सी समस्याओं में एक समस्या होती है, नींद की समस्या।

क्योंकि प्रेगनेंसी में, बार-बार यूरिन के लिए जाना पड़ा है, उल्टी और मतली की समस्याएं होती रहती हैं, शरीर में दर्द होना शुरू हो जाता है, ऐसे में महिला ठीक से सो नहीं पाती।

कुछ ऐसी ही समस्याएँ, जो नींद में बाधा उत्पन्न करती हैं-

हार्ट बर्न

हार्ट बर्न की ज्यादातर समस्या, प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन के कारण होती, इसमें पेट में एसिड बन जाता है और  भोजन को पचाने में असुविधा होती है। इसी कारण से पहले पेट और फिर सीने में जलन होने लगती है।  

पैरों में ऐंठन
प्रेगनेंसी के दौरान, महिलाओं के शरीर में बनने वाले हार्मोन, बहुत सारे दर्द के कारण बनते हैं। खास तौर पर, मांशपेशियों में होने वाले दर्द के। इससे भी नींद में समस्या उत्पन्न होती है।  

बुरे सपने

प्रेगनेंसी के दौरान, महिलाओं का मन बहुत चंचल हो जाता है। इस दौरान, वह ज्यादातर समय अपनी डिलीवरी और बच्चे के बारे में ही सोचती रहती है। यहाँ तक कि इस दौरान उसे डर भी बहुत लगता है। कई बार, महिलाओं को अपनी प्रेगनेंसी के अलावा, दूसरी चिंताएं भी होती हैं। यही सभी बुरे ख्याल उसके मन मस्तिष्क में घर कर लेते हैं।   

बच्चे की गतिविधियां

रात में खाना खाने के बाद आपका मन सोने का होता है लेकिन, आप जैसे ही सोने की कोशिश करती हैं वैसे ही आपके बच्चे किक और घूसे मारना शुरू कर देते हैं, जिससे कि आप चाह कर भी नहीं सो पाती हैं।

यहाँ हम ऐसे कुछ तरीकों के बारे में जिक्र कर रहें हैं, जिनसे आपको अनेकों परेशानियों के चलते सो न पाने की समस्या में राहत मिल जाती है।  

पीठ के बल सोने से बचें

पीठ के बल सोने से आपको पीठ दर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे में अपने पेट के नीचे एक तकिया का प्रयोग करें, जिससे कि आपके घुटने और पीठ को आराम मिल सके।  

अपने शरीर को आराम दें

शरीर और सर के लिए तकिए का प्रयोग करें, जिससे कि आपको सीने में जलन की समस्या से भी राहत मिल सकती है।

एक ही समय पर नींद की आदत डालें

नींद लेने की आदत डालने की कोशिश करें। हर रोज एक ही समय पर बिस्तर पर जाएँ।

सोने से पहले रिलैक्स करें

अच्छी नींद लेन के लिए आप किताबें पढ़ सकती हैं इसके अलावा संगीत सुन सकती हैं जिससे कि आपको नींद में मदद मिल सके।

 

loader