प्रेगनेंसी में न केवल शराब बल्कि इन 4 पेय पदार्थों से भी बनाएं दूरी

अगर आप चाहती हैं हेल्दी बेबी तो इन ड्रिंक का सेवन न करें गर्भवती महिलाएं !

गर्भावस्था का हर वो एक पल मुश्किल भरा होता है जहाँ महिलाओं को काफी सोच-समझ कर कदम रखना पड़ता है। क्योंकि, आपकी थोड़ी सी गलती न केवल आपके लिए बल्कि गर्भ में पल रहे शिशु के लिए भी खतरा पैदा कर सकता है। प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को खासतौर से अपने खाने-पीने का विशेष ध्यान रखना चाहिए ताकि आप एक हेल्दी बेबी को जन्म दे सकें। क्योंकि, इन दिनों कुछ गलत चीज़ों का सेवन आपके लिए खतरा पैदा कर सकता है।

आमतौर पर महिलाएं, इन दिनों कुछ ऐसे पेय पदार्थ हैं जिनका सेवन न करें तो ज्यादा अच्छा होगा, जो निचे दिए जा रहे हैं-

शराब

न केवल गर्भावस्था के दौरान बल्कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि, गर्भावस्था में अधिक  शराब पीने से बच्चों में शारीरिक विकार, मंद बुद्धि,  भ्रूण शराब सिंड्रोम, गर्भपात और भावनात्मक समस्याएं पैदा हो सकती हैं। इसके अलावा, जो महिलाएं अपने बच्चे को स्तनपान कराती हों उन्हें भी शराब के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि, यह आपके दूध को प्रभावित करता है।

कच्चे दूध का सेवन

प्रेगनेंसी में डॉक्टर कच्चे दूध के सेवन के लिए मनाही करते हैं, क्योंकि कच्चे दूध में ऐसे विषाणुओं के होने की संभावना रहती है, जिससे कि माँ के पेट में संक्रमण होने का खतरा रहता है। इतना ही नहीं, इन कच्चे दूध से बने पनीर आदि का सेवन भी डॉक्टर न करने की सलाह देते हैं। इसलिए, इन दिनों बिना उबले हुए गाय या भैंस के दूध का सेवन करने से बचे।

कॉफी का सेवन

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि बहुत ज्यादा जरूरी हो तब दिन भर में एक या दो बार ले सकती हैं वो भी अपने डॉक्टर की सलाह पर ही लें। क्योंकि, इन दिनों कॉफी की अधिक मात्रा सेवन करने से यह आपके शरीर में उत्तेजक का काम कर सकता है। जो कि शिशु के हार्ट बीट को प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, कैफीन के सेवन से गर्भवती महिला में गर्भपात और बच्चे के जन्म के समय कम वज़न का खतरा भी बढ़ जाता है।

चाय

प्रेगनेंसी के दौरान, किसी भी चीज़ की मात्रा का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है, क्योंकि यह आपके शिशु के हेल्थ को प्रभावित कर सकता है। अगर आपको चाय के बिना नहीं बनता हो तो इस दौरान आप पूरे दिन भर में 2 से 3 कप चाय से ज्यादा न पिएं। क्योंकि, यह शिशु के भ्रूण को प्रभावित करता है। क्योंकि, अधिक चाय के सेवन से बच्चे का वजन कम होने की संभावना रहती है। इसके अलावा, आप हर्बल चाय, हरी चाय, ऊर्जा पेय आदि के सेवन से बचें।

कोल्ड ड्रिंक

प्रेग्नेसी में बहुत सी महिलाओं को सॉफ्ट डिंक पीने की क्रेविंग होती है, जो कि बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है। क्योंकि, इसमें सोडा और शुगर की भरपूर मात्रा होती है जो बच्चों में मोटापे के खतरे को बढ़ा सकती है। विशेषज्ञों की मानें तो गर्भावस्था में जो औरतें हर रोज सॉफ्ट ड्रि‍क पीती हैं उनके होने वाले बच्चों का बॉडी मास इंडेक्स काफी हाई होता है। इसके अलावा, बच्चे के पाचन तंत्र को भी प्रभावित करता है, इसलिए इन दिनों इसके सेवन से बच कर महिलाएं।

Feature Image Source

loader