प्रेगनेंसी में मांसपेशियों के दर्द से निपटने के 5 तरीके

गर्भावस्था में पीठ व कमर दर्द होना एक आम बात है। क्योंकि, जैसे-जैसे आपकी गर्भावस्था आगे बढ़ी जाती है,  ठीक वैसे-वैसे श्रोणि का मुंह भी खुलता चला जाता है, ताकि बच्चा आसानी से बाहर आ सके। यही कारण है कि मांशपेशियों, कमर और पैल्विक क्षेत्र में दर्द होता है। इसके अलावा, यदि आपका वजन सामान्य से अधिक है या फिर आप पहले भी गर्भवती हो चुकी हैं, तो आपको पीठ दर्द होने की संभावना अधिक रहती है।    ऐसे में यहाँ 5 ऐसी तरकीबें बताई जा रही हैं, जिनके जरिए मांसपेशियों के दर्द में राहत मिल सकती है। एक अच्छा बॉडी पिलो बढ़ते हुए पेट के नीचे तकिया लगा कर सोने से अच्छी नींद आती है, लेकिन ध्यान रहे कि एक एक अच्छे बॉडी पिलो का ही प्रयोग करें, जिसे घुटनों के बीच और पीठ के नीचे दबा कर सोया जा सके। प्रेगनेंसी में इस तकिए के प्रयोग से मांसपेशियों के दर्द से आराम मिलता है। प्रेगनेंसी में सपोर्टिव बेल्ट यह बेल्ट पैरों में पड़ने वाले लम्बे स्ट्रेचेस के लिए विशेष रूप से उपयोगी होती है। यह बेल्ट पेट की मांसपेशियों और पीठ पर पड़ने वाले आपके शिशु के कुछ वजन को अपने ऊपर ले लेती है, जिससे पीठ और पैल्विक दर्द से राहत मिल जाती है।   गर्म स्नान स्विमिंग मांसपेशियों को शांत करने का सबसे अच्छा तरीका माना जाता है। साथ ही प्रेगनेंसी में गर्म पानी में  नहाने से पीठ दर्द में राहत मिलती है। मालिश मालिश करने से थकी और दर्द वाली मांसपेशियों को आराम मिलता है एक अच्छा व्यायाम हल्के तौर पर किया गया व्यायाम जैसे योगा, तैराकी या चलना आपके स्थिर शरीर और जोड़ों को राहत प्रदान करता है।

loader