प्रेगनेंसी में कितने किलो तक बढ़ सकता है आपका वजन?

प्रेगनेंसी के दौरान, वजन का बढ़ना आम बात है क्योंकि, वज़न का बढ़ना स्वस्थ गर्भावस्था के सबसे सकारात्मक संकेतों में से एक है। इसमें घबराने या परेशान होने जैसी कोई बात नहीं होती। आम तौर पर, प्रेगनेंसी में महिला का वजन 10 से 11 किलो तक बढ़ जाता है। हम यहाँ ऐसे ही कुछ पहलुओं पर चर्चा कर रहें हैं, जिनसे पता चलता है कि आख़िरकार प्रेगनेंसी में किस कारण से और कितना वजन बढ़ता है।

  • जन्म के समय बच्चे का औसत वजन- 3.3kg से 2.8kg होता है
  • आपके गर्भाशय के मांसपेशियों की परत – 0.9kg होती है
  • प्लेसेंटा- 0.5kg होता है
  • आपका ब्रैस्ट- 0.4kg होता है
  • बढ़ रहे रक्त की मात्रा – 1.4kg होती है
  • शरीर में अतिरिक्त तरल पदार्थ- 2.6kg होता है
  • अतिरिक्त वसा- 2.5kg, जो स्तनपान के लिए स्टोर किया होता है

प्रेगनेंसी के बाद महिला का वजन 10 से 11 किलो तक बढ़ना सबसे आम है। हालाँकि, यह जरूरी नहीं है कि सभी महिलाओं का वजन इतना ही बढे। किसी का काम या किसी का ज्यादा भी हो सकता है। दरअसल प्रेगनेंसी में वजन का बढ़ना, महिला की बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) पर निर्भर करता है। आपके डॉक्टर आपका वजन आपके ट्रेंड्स और पैटर्न्स के आधार पर देखते हैं। यदि आपका वजन बहुत कम है तो ऐसे में आपका बच्चा बहुत छोटा और समय से पहले पैदा हो सकता है। इसके विपरीत यदि आपका वजन बहुत ज्यादा है, तो इस स्थिति में जेस्टेशनल डायबिटीज, हाइपरटेंशन या डिलीवरी जैसे जोखिम कारक उत्पन्न हो सकते हैं। इसके अलावा स्ट्रेच मार्क्स जैसे निशान भी पड़ सकते हैं। तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें, यदि-

  • यदि आपका सेकेंड ट्राइमेस्टर के पहले हफ्ते में 1. 5 किलो वजन बढ़ गया हो।
  • यदि आपने 1 किलो से ज्यादा वजन अपने तीसरे ट्राइमेस्टर के पहले हफ्ते में गेन कर लिया हो, खासकर जब आप ज्यादा नहीं खा रही हों या विशेष रूप से यदि सोडियम की मात्रा में वृद्धि हुई हो तो यह प्रीक्लेम्पसिया का संकेत हो सकता है।
  • यदि आपने दूसरे और तीसरे हफ्ते में, खासकर चौथे से आठवें महीने के बीच में कोई वेट गेन नहीं किया हो।

यदि आप प्रेगनेंसी में वेट गेन करती हैं, लेकिन जितना एक आइडियल वेट होना चाहिए उतना नहीं हुआ है तो ऐसे में घबराने की कोई जरूरत नहीं है। आप स्वस्थ खानपान, व्यायाम और अपने जीवन शैली में बदलाव करके अपने वजन में वृद्धि कर सकती हैं।  

loader