प्रेगनेंसी में हार्ट बर्न से ऐसे पाएं निजात

प्रेगनेंसी में हार्ट बर्न की समस्या बेहद आम होती है। खासकर खाना खाने के बाद, सीने में होने वाली जलन, सबसे आम समस्‍याओं में से एक है। भले ही यह कोई गम्भीर समस्या नहीं है, लेकिन यदि इसका ट्रीटमेंट न किया जाए, तो इससे प्रेगनेंसी की समस्याएँ और भी बढ़ सकती हैं।

ज्यादातर हार्ट बर्न की समस्या, प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन के कारण होती है। इसमें पेट में एसिड बन जाता है। इसके कारण भोजन को पचाने में असुविधा होती है और यही वजह है कि सीने में जलन की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

साथ ही यह जरूरी नहीं है कि इस दौरान, हर एक समस्या के लिए मेडिकल ट्रीटमेंट ही लिया जाए, बल्कि थोड़ी सी सावधानी और अपने पर नियंत्रण से आप बहुत सी परेशानियों से खुद भी बच सकती हैं।  

क्या करें?

पानी- पानी को अचानक से पीने के बजाय, छोटी-छोटी घूंटों में पीना चाहिए। इससे भी सीने में होने वाली जलन में थोड़ी बहुत राहत

नारियल पानी- नारियल पानी को एक बहुत बड़ा प्राकृतिक एसिड न्यूट्रीलाइजर माना जाता है। जिसको प्रेगनेंसी के दौरान, पीने से हार्ट बर्न की समस्या से राहत मिलती है।

अदरक- अदरक या अदरक कैंडीज का प्रयोग करने से, सीने में होने वाली समस्या से राहत मिलती है। क्योंकि, हर्ट बर्न के कारण मतली का होना बहुत आम बात है, ऐसे में अदरक का प्रयोग इस समस्या से छुटकारा दिलाता है।

लहसन- कुछ महिलाओं का मानना है कि, अपने भोजन में लहसुन का प्रयोग करने से सीने में होने वाली जलन की समस्या से राहत मिल जाती है।

पुदीना- सीने में होने वाले जलन के दौरान, पुदीने की चाय या पुदीना कैंडी का सेवन फायदेमंद माना जाता है। लेकिन, ध्यान रहे कि पुदीना कैंडी का अधिक प्रयोग घातक हो सकता है क्योंकि, इसमें चीनी की मात्रा अधिक होती है।  

दही- दही एक क्षारीय भोजन है, जो हर्ट बर्न के दौरान होने वाले एसिड से राहत दिलाता है। इसके अलावा, दही में एक प्रोबायोटिक्स नामक बैक्टीरिया होता है, जो पाचन तंत्र में फायदेमंद होता है।

केला- केला एक नेचुरल फ़ूड है, जो हार्ट बर्न की समस्या से लड़ने में मदद करता है। इसमें कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जो, पेट में एसिड के स्राव को दबाने में मदद करता है।

 

loader