प्रेगनेंसी में इन 4 तरीकों से पाएं गैस की समस्या से राहत

गर्भावस्था के दिनों में गैस की समस्या महिलाओं में बेहद आम बात है, क्योंकि यह समस्या शरीर में बदलाव के कारण उत्पन्न होता है। जो गर्भवती महिलाओं के लिए काफी तकलीफदेह होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि गैस सामान्य की तुलना में बहुत अधिक बनता है। जिसके लिए कहीं न कहीं प्रोजेस्टीरोन हॉर्मोन  का अधिक मात्रा में उत्पादन जिम्मेदार है। जो पूरे शरीर के मुलायम मांसपेशीय ऊत्तकों को शिथिल बना देता है। और यह शिथिलता आपकी पाचन प्रक्रियाओं को धीमा कर देती है, जिससे कि पेट में अधिक गैस बनना, पेट का फूलना और असहज महसूस होने जैसी स्थिति उत्पन्न होती है।

हालांकि, निचे कुछ ऐसे उपाय बताए जा रहे हैं जिसके जरिये आप इस तरह की समस्या को कम कर सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं-

गैस बनने वाले पदार्थों से दूरी

गर्भावस्था में कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जो गैस के कारण को पैदा करते हैं। खासतौर से बीन्स, पत्ता गोभी, फूल गोभी, छोटी बंद गोभी, हरी गोभी, प्याज, सूत मूली आदि। क्योंकि, इन सब्जियों में अवशोषित न किए जा सकने वाले कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं, जिन्हें शायद आपका शरीर उचित ढंग से हजम न कर पाएं।  

फाइबर युक्त आहार

फाइबर वाले आहार न केवल आपको गैस की समस्या से राहत प्रदान करते हैं, बल्कि इसके सेवन से आपमें कब्ज की समस्या भी दूर होगी। इसके लिए आप अपने आहार में, चावल, गाजर, हरी पत्‍तेदार सब्जियां, साबुत अनाज और होल ग्रेन आदि को शामिल करें। क्योंकि इस तरह से आहार में फाइबर की भरपूर मात्रा से मल त्‍याग को नियमित रखने में मदद मिलती है।

खूब सारा पानी पिएं

गर्भावस्‍था के दौरान शरीर में पानी की कमी हो जाती है, और इस कारण पेट फूल जाता है. ऐसे में समय-समय पर पानी पीते रहें। इसके अलावा अपने आहार में ताजे फलों के रस को शामिल करें, जिससे कि आपका शरीर हाइड्रेटेड रहेगा।

जरूरत से ज्यादा न खाएं

गैस की समस्या से बचने के लिए एक ही बार में बहुत ज्यादा खाने के बजाय थोड़ा-थोड़ा अंतराल पर पूरे दिन कुछ-कुछ खाते रहें। ज्यादा मात्रा में भोजन करने पर उसके पाचन में दिक्कत आती है। अगर पाचन ठीक से नहीं होगा तो गैस की समस्या होगी और आप ब्लोटिंग से भी जूझ सकते हैं।

इसके अलावा, आप रोजाना एक्सरसाइज करें इससे आपको गैस की समस्या उत्पन्न नहीं होगी। लेकिन, एक बार एक्सरसाइज करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

loader