प्रेगनेंसी में, चटपटा स्ट्रीट फ़ूड हो सकता है नुक्सानदायक

एक तो प्रेगनेंसी, जिसमें चटपटा खाने का मन बहुत ज्यादा होता है, ऊपर से आपका चटपटा मिजाज। बस फिर तो स्ट्रीट फ़ूड आपको अपनी तरफ आकर्षित करने में बहुत आसानी से कामयाब हो सकता है। लेकिन, अगर आपमें थोड़ा सा भी धैर्य है, तो थोड़ा सा रुकिए और एक बार सोचिये। आपके लिए क्या महत्वपूर्ण है, आपके बच्चे का खिला-खिला चेहरा और उसका स्वास्थ्य या फिर आपका सिर्फ 2 मिनट का स्वाद? यदि आपमें धैर्य नहीं हैं तो इसे लाना सीखिए। स्ट्रीट में खड़े, ठेले वाले चटपटे खाने को देख कर यदि आपके मुँह में पानी आ जाता है, तो अपने घर से कुछ ऐसा खा कर निकलिए, जिससे आपको यह फ़ूड आकर्षित न कर पाए।

आपके लिए क्यों ठीक नहीं है, स्ट्रीट फ़ूड?

देखिये, इसमें कोई दोराय नहीं है, कि स्ट्रीट फ़ूड, हाइजीनिक नहीं होता। कई बार तो हम खबरों में भी इस तरह के खुलासे पढ़ते ही रहते हैं। जरूरी नहीं है कि यदि आपको कोई स्टॉल साफ़-सुथरा दिख भी रहा हो तो उसका फ़ूड आपके लिए ठीक ही हो। क्योंकि स्ट्रीट फ़ूड परोसने वाले आपकी सेहत का नहीं बल्कि अपनी बिक्री और मुनाफे को ध्यान में रख कर खाने की चीजे परोसते हैं।

इसलिए अक्सर आपके डॉक्टर, आपको ऐसा खाना घर पर ही बना कर खाने की सलाह देते हैं। अगर आपको इस तरह का व्यंजन, घर पर तैयार करने में परेशानी हो रही है, तो आप रेडी-टू इट या वैक्यूम-सील्ड पैक्स का इस्तेमाल कर सकती हैं। लेकिन ध्यान रहें कि यह पैकेट किसी अच्छे ब्रांड के हो और इसे बनाने से पहले उस पर लिखी डेट चेक कर लें।

अगर आपको स्ट्रीट फूड खाना ही है, तो खाने से पहले निम्नलिखित बातों को ध्यान में रखें –

अच्छी और भरोसेमंद दूकान का ही चुनाव करें-

  • सड़क पर खाने की जगह, ऐसे रेस्टोरेंट में जाए, जहाँ गुणवत्ता, स्वच्छता और सेवा, तीनों चीज का ध्यान रखा जाता हो।
  • खाने के अलावा, ऐसी जगह का चुनाव करें जो साफ़-सुथरी हो। रेस्टोरेंट में कोई भी मक्खी, मच्छर या अन्य कीट न हो। इनसे आपको इन्फेक्शन हो सकता है।
  • सही खाना आर्डर करें। ज्यादा तेल मसालें वाला खाना न आर्डर करें।
  • ताजा बना खाना ही आर्डर करें। गर्म, पका भोजन, जो आमतौर पर आपके आर्डर देने के बाद बना हो, ऐसा खाना ही खाए।
  • ऐसी चीजें जिसमें कच्ची चीजों का इस्तेमाल किया गया हो जैसे- सलाद या डिश को सजाने के लिए, इस्तेमाल होने वाली सामग्री, को खाने से बचें।
  • ऐसी चीजों को खाने से बचें, जिसमें चटनी, सॉस या मसालों का इस्तेमाल हो। क्योकि ऐसी चीजें हवा में खुली रखी रहती हैं।
  • डेयरी आइटम से बनी चीजों को खाने से बचें, क्योकि अक्सर दुकानों में फ्रेश डेयरी आइटम का प्रयोग नहीं होता।   
  • ठंडी ड्रिंक्स या कुल्फी, आइसक्रीम जैसी चीजों को खाने से बचें। हो सकता है कि आइसक्रीम बनाने के लिए, जो पानी का इस्तेमाल किया गया हो ,वह साफ़ नहीं हो।
  • बहुत से रेस्टारेंट ऐसे होते हैं, जो घर पर खाना डिलीवर करते हैं। अगर आप ऐसा कर रही हैं तो ऐसी जगह से ही खाना मंगवाए, जहां क्वॉलिटी और हाइजिन का पूरा ध्यान रखा जाता हो।

अगर आप इस सभी बातों का ध्यान रखते हुए, बाहर का खाना खाती हैं, तो आपको कोई नुक्सान नहीं होगा। डीप फ्राई, मीठा या घी से बनी चीजों को रोजाना खाने से आपके सेहत पर गलत प्रभाव पड़ता है, इसलिए रोजाना बाहर का खाना न खाए। कभी-कभी आप बाहर से खाना मंगवा कर खा सकती हैं।

loader