प्रेग्नेंसी के दौरान अगर बार-बार पति ट्रैवलिंग करते हैं?

हर महिला के लिए प्रग्नेंसी का समय काफी कठिन होता है। उसे अपने साथ-साथ, बेबी का भी ध्यान रखना होता है। इस समय, हॉर्मोन का स्तर भी असंतुलित रहता है। बेबी को लेकर डर, असुरक्षा और चिड़चिड़ापन, और ज्यादा बढ़ जाता है। यह सभी चीजें महिला के दिमाग पर गहरा असर डालती हैं और वह पहले से ज्यादा सेंसटिव हो जाती है। इसलिए, ऐसे समय में हर पति को, अपनी पत्नी का खास ख्याल रखना चाहिए। क्योकि जिसे आपकी पत्नी अकेले अपने गर्भ में पाल रही है, वह आप दोनों की जिम्मेदारी है। पति महोदय भले ही पत्नी की नौ महीनों की परेशानियों को महसूस नहीं कर सकते, लेकिन उसे भावनात्मक सहारा देकर उसकी परेशानियां कम जरूर कर सकते हैं।

अगर आपके पति की जॉब ऐसी है कि उनका ज्यादातर समय यात्रा करने में जाता है तो इससे कैसे निपटे?

अगर आपके पति का ज्यादातर समय, ट्रैवलिंग में जाता है, तो इससे आपको तनाव होना स्वाभाविक है। ऐसे में, आपके पास सिर्फ इस बात को स्वीकार करने के अलावा, कि उनकी जॉब ही ऐसी है, और कोई चारा नहीं होता। ऐसा नहीं है कि वह आपके साथ नहीं रहना चाहते। इसलिए बेहतर है कि आप भी अपने पति का सपोर्ट करें। हो सकता है कि उन्हें इस बात को लेकर मन में ग्लानि हो, इसलिए उनका साथ दें। यहाँ आपको कुछ ऐसे टिप्स दिया जा रहे हैं, जिनसे आप इस समस्या से आसानी से डील कर सकती हैं-   

स्थिति को स्वीकार करें- इस बात को स्वीकार करें कि आपके पति को यात्रा करना ही है, क्योकि यह उनकी भी मज़बूरी है। इसलिए अपने पति की पैकिंग करने में मदद करें।

अन्य किसी व्यक्ति, जो आपके करीब है, उसके साथ समय बिताए- शादी या किसी भी रिश्ते का सबसे अच्छा भाग होता है प्यार और आपस में ताल-मेल। हर किसी को, किसी अन्य व्यक्ति के साथ, अपने सुख-दुःख या हां-ना, यहाँ तक कि अपनी पसंदीदा कॉफ़ी भी, शेयर करना अच्छा लगता है। अगर इस समय आपके पति आपके साथ नहीं हैं, तो कोई भी अन्य व्यक्ति, जो आपके बहुत नजदीक है, उसके साथ समय बिताए। अगर आपको किताबें पड़ना पसंद है तो उन्हें भी अपना दोस्त बना सकती हैं।

डर को काबू करें- अगर आपको ऐसा ऐसा लगता है कि मेरे पति के यहाँ न रहने पर, कही मेरे साथ कुछ गलत तो नहीं हो जायेगा, इस बात के लिए अपने किसी करीबी या अन्य किसी भी व्यक्ति से बात कर सकती है। इससे आप अपने डर पर काबू पा सकती हैं। अगर आपको अकेले रहने से, डर लगता है तो किसी अपने रिस्तेदार को घर बुला सकती हैं।

पति के साथ टच में रहें- अपने पति के साथ फोनकॉल, मैसेज या फोटो के साथ संपर्क में रहें, इससे आपको पति से दूर रहने का एहसास नहीं होगा।

loader