प्रेगनेंसी के दौरान कैल्शियम के 10 बेहतरीन स्रोत

अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि, कैल्शियम वजन कम करने में मदद करता है, वह भी सिर्फ डेयरी प्रोडक्ट से प्राप्त कैल्शियम, न कि किसी अन्य प्लांट स्रोत से। क्योंकि, प्रोटीन और कैल्शियम के बीच एक गहन  रिश्ता होता है, जो प्लांट सोर्स में मौजूद नहीं होता है।

नीचे कुछ ऐसे ही कैल्शियम के स्रोत दिए गए हैं-  

  1. कम वसा वाले पनीर- सभी तरह के ‘चीज़’,  कैल्‍शियम से भरपूर होते हैं, ऐसे में रोजाना 95 % चीज़ की जरूरत होती है।
  2. कम वसा युक्त दूध- 183 mg दूध में 100 ग्राम कैल्शियम की मात्रा मौजूद होती है, जो वजन को कम करने में सहायक होता है।
  3. कम चिकनाई वाली दही- 20 मिलीग्राम दही में करीब 100 ग्राम कैल्शियम की मात्रा होती है, इसके सेवन से  दही की 30 % जरूरतों को पूरा किया जा सकता है। जिससे कि स्वाद के साथ-साथ कैल्शियम की पूर्ति की जा सकती है।
  4. डिब्बाबंद मछली- 383 मिलीग्राम मछली में 100 ग्राम कैल्शियम पाया जाता है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।
  5. पके अंडे- अंडे का प्रयोग सुबह के ब्रेकफ़ास्ट में किया जाना सबसे अच्छा माना जाता है, क्योंकि यह वजन को बढ़ने से रोकता है और आसानी से पचने में मदद करता है।
  6. बादाम- 264 mg बादाम में 100 ग्राम  कैल्शियम पाया जाता है, जो कैल्शियम का अच्छा स्रोत माना जाता है, और साथ ही स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।
  7. हरी पत्तेदार सब्जियां- 100 ग्राम हरी पत्तेदार सब्जियों में 100 से लेकर 190 मि.ग्रा तक कैल्शियम होता है। जो वजन कम करने में मदद करता है।
  8. टोफू- सोयाबीन से बने टोफू में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है। लेकिन टोफू में कैल्शियम की मात्रा उसके प्रकार पर निर्भर करती है। जैसे फर्म टोफू में 230 मिलीग्राम, सिल्कन टोफू 130 मिलीग्राम कैल्शियम पाया जाता है। 100 ग्राम टोफू में लगभग 350 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।
  9. ऑरेंज जूस-  रोजाना 350 mg ग्लास फोर्टीफाइड ऑरेंज जूस का प्रयोग अच्छा माना जाता है, खासकर सुबह के नाश्ते के समय।  
  10. शलजम का साग- अक्सर लोग इसे बेकार समझते हैं, लेकिन यह कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत माना जाता है क्योंकि,  240 mg साग में 100 ग्राम कैल्शियम की मात्रा पाई जाती है।  

loader