प्रेगनेंसी का 34 वां हफ्ता

प्रेग्नेंसी के 34वें हफ्ते में, जब बेबी की शारीरिक संरचना पूरी हो चुकी है। अब वह गहरी सांसे लेने का आदी हो गया है। वह अब बाहरी दुनिया में आकर सांस लेने के लिए पूरी तरह से तैयार है। वह अपनी छोटी-छोटी आँखों को ब्लिंक करता है। जब वह जागता है तो वह अपनी आँखें खोल लेता है और जब वह सोता है तो वह अपनी आँखें बंद कर लेता है। अब बेबी गहरी नींद में सो सकता है।  

अब बच्चे पर वसा की परते बन रही हैं और उसका शरीर भर रहा है। अब उसका शरीर गोलाई में आ रहा है। इस दौरान भी बच्चा गर्भ में आराम से घूम-फिर सकता है। इस हफ्ते तक आते-आते आप भी बेबी की मूवमेंट की आदि हो जाती हैं। यहाँ तक कि मूवमेंट की शुरुआत से लेकर हफ्ते-दर हफ्ते यह तेज होती जाती है। वहीं प्रसव का समय आते-आते मूवमेंट थोड़ी भारी भी हो जाती है क्योंकि बच्चे का शरीर बढ़ने के साथ-साथ उसके लिए गर्भ में जगह कम होती चली जाती है। इस हफ्ते में भी बच्चा ऊपर-नीचे घूमता रहता है।

इस हफ्ते तक आपका बेबी आपकी आवाज को पहचानना शुरू कर देता है। इसलिए अपने बेबी से बात करती रहिये ताकि जन्म के बाद वह आपकी आवाज को पहचान सके। इस हफ्ते तक आते-आते बच्चे के फेंफड़े बिलकुल विकसित हो चुके होते हैं। अब वह खुद सांस लेने के लिए पूरी तरह से तैयार है। अब बेबी के हाथों और पैरों की उँगलियों के नाखून अब बढ़ चुके हैं। यहाँ तक कि वह उँगलियों से ऊपर भी निकल जाते हैं और उन्हें जन्म के तुरन्त बाद काटे जाने की जरूरत पड़ती है। यदि इस दौरान आपके गर्भ में लड़का पल रहा है तो उसके अंडकोष,अंडकोश की थैली में, नीचे की तरफ जा रहे हैं।

loader