प्रेगनेंसी का 30 वां हफ्ता

प्रेग्नेंसी के 30 वें हफ्ते में आपका बेबी एक पत्ता गोभी के आकार का हो चुका होता है, और बेबी की लंबाई 15 से 17 इंच और वजन 1.5 किलो का हो चुका होता है। अब तक बेबी के फेंफड़े और पाचन तंत्र पूरी तरह से विकसित हो चुके हैं। अब बेबी की लंबाई का बढ़ना धीरे-धीरे कम हो जाएगा लेकिन बच्चे का वजन उसके जन्म तक बढ़ता रहेगा।

अब बच्चा आँखें खोलने और बंद करने का आदि हो रहा है वह बड़े आराम से आँखें खोल और बंद कर सकता है, पलके झपका सकता है। यहाँ तक कि वह यह भी देख सकता है कि गर्भ में कहाँ क्या हो रहा है। वह अलग-अलग तरह की प्रकाश और अँधेरे को देख सकता है। वह गर्भ नाल से खेलता है।

हालाँकि, आप खुद भी इस बात को नोटिस कर सकती हैं कि यदि आप उस तरफ जिस तरफ आपका बेबी हो यदि तेज प्रकाश डालती हैं तो बच्चा वहां से खिसक जाता है। नए जन्में बच्चे केवल 8 से 12 इंच तक की दूरी तक ही देख सकते हैं। जहाँ एक और अब तक बच्चे की पलकें और भवन पूरी तरह से उग चुकी हैं, वहीं दूसरी और उसके सिर के बाल आप घने और मोटे होने लगे हैं।

जैसे-जैसे आपका बेबी आकार में बढ़ता है, गर्भ में उसके लिए जगह कम होने लगती है और इससे आपको कभी-कभी साँस लेने में तकलीफ भी हो सकती है। ऐसा तब होता है जब बच्चा पसलियों के पिंजड़े तक पहुंच जाता है।

इसके अलावा भी कुछ ऐसे महत्वपूर्ण विकास हैं, जो बेबी में देखने को मिल सकते हैं, जो निम्न हैं-

  • बच्चे के मस्तिष्क में वृद्धि  

  • शरीर के बालों में कमी

  • लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन

  • हाथों और नाखूनों का विकास

loader