प्रेग्नेंसी और डिलीवरी के लिए बहुत फायदेमंद है योग

प्रेग्नेंसी में योग और ब्रीथिंग एक्सरसाइज के बहुत से फायदे हैं और साथ ही यह सुरक्षित भी हैं। योग से प्रेग्नेंसी में होने वाली कॉम्प्लीकेशन से बचा जा सकता है। इतना ही नही, प्रेग्नेंसी में योग और ब्रीथिंग एक्सरसाइज करने से डिलिवरी में भी कोई कॉम्प्लिकेशन नहीं होती और इससे प्रसव पीढ़ा सहने की शक्ति भी मिलती है। साथ ही यह शरीर और मांशपेशियों को रिलैक्स करता है।  

  • जैसे-जैसे, आपका शरीर और बेबी का आकार बढ़ता है आपके शरीर को और ज्यादा ऑक्सीजन की जरुरत होती है, ताकि वह सही से काम कर सकें। गहरी सांस लेने से आपके शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन मिलता है।
  • शरीर में जैसे-जैसे ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ती है, मांशपेशियों और जोड़ों में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है।
  • योग से आप तनाव मुक्त होती हैं।
  • लेबर के दौरान, अक्सर कई महिलाएं पैनिक (बहुत ज्यादा डर) हो जाती हैं। डर के कारण शरीर में एड्रेनालाईन बनता है, जो ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन को बनने से रोकता है। ऑक्सीटोसिन एक ऐसा हॉर्मोन है जो डिलीवरी में मदद करता है। गहरी साँस लेने से, आप डर पर नियंत्रण कर सकती हैं और इससे आप और ज्यादा एनर्जी भी मिलती है, जिससे आप बेबी को पुश कर सकती हैं।  

प्रेग्नेंसी में, हर प्रकार के योग और ब्रीथिंग एक्सरसाइज नहीं किये जा सकते। प्राणायाम, (इसमें आपको गहरी साँस लेनी होती हैं) प्रेग्नेंसी में सहायक है। लेकिन भस्त्रिका और कपालभारती प्रेग्नेंसी में नहीं करना चाहिए। तेजी, जोर से और गहरी साँस लेना, न ही आपके लिए सही है और न ही आपके बेबी के लिए। इसलिए योग या ब्रीथिंग एक्सरसाइज करने से पहले, किसी ट्रेंड इंस्ट्रक्टर या योग टीचर की मदद ले सकती हैं।

 

loader