प्राकृतिक प्रसव के लिए इन चीजों का जानना बेहद जरूरी

हर गर्भवती महिलाएं गर्भधारण से लेकर बच्चे के जन्म तक खुद का अच्छे से ख्याल रखती हैं। ताकि प्रेगनेंसी में कोई समस्या उत्पन्न न हो, खासकर महिलाएं प्राकृतिक प्रसव को ज्यादा तवज्जो देती हैं। क्योंकि, प्राकृतिक प्रसव से न तो आपको कोई परेशानी होती है और न ही बच्चे को। 

हालाँकि, यह सच है कि प्राकृतिक तरीके से बच्चे का जन्म बेहद फायदेमंद होता है, और साथ ही यह बच्चे में होने वाले साइड-इफ़ेक्ट को भी कम करता है। साथ ही आप भी प्रसव के दौरान अपने आप को नियंत्रण में रख सकती हैं। इतना ही नहीं, नेचुरल बर्थ  आपको अंदर से स्ट्रांग बनाता है।  

 

प्राकृतिक तरीके से हुए बच्चे के जन्म के दौरान आपको प्रसव के दर्द से गुजरना पड़ता है, खासकर जब आपको लंबे समय से लेबर पेन हो रहा हो।

ऐसे में महिलाओं को प्राकृतिक प्रसव के दौरान निम्न बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए, जैसे-

  • प्राकृतिक प्रसव के दौरान दर्द से संबंधित सारी जानकारियाँ होना जरूरी है। इसके अलावा बच्चे के जन्म की प्रक्रिया को समझना अनिवार्य है, और साथ ही बच्चे के जन्म के प्रत्येक चरण में क्या होता है इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए।

  • यदि आप  प्राकृतिक जन्म के लिए तैयार हैं तो ऐसे में अपने डॉक्टर से जरूर बात करें। साथ ही नॉर्मल प्रसव के दर्द से राहत पाने के लिए विभिन्न तकनीक पर चर्चा करें।

  • वैसे क्लासेस ज्वाइन करें जहाँ आपको प्रसव के दौरान होने वाले दर्द से राहत पाने के तकनीकों के बारे में बताया जा सके।

  • यदि आपको लगता है कि आप एक नेचुरल बर्थ के लिए पूरी तरह से फिट और हेल्दी हैं, ऐसे में यह जरूरी नहीं है कि आप जैसा सोच रही हों उस योजना के हिसाब से हो। क्योंकि, यदि आपका लेबर पेन बहुत अधिक लंबा और असहनीय है तो ऐसे में आपको मेडिकल चिकित्सा की जरूरत पड़ सकती है।

loader