नॉर्मल डिलीवरी के लिए महिलाएं जरूर अपनाएं इन 6 तरीकों को

प्रेगनेंसी हर महिला के लिए सबसे खूबसूरत पल होता है, और वह चाहती हैं कि बिना किसी समस्या के यह आसानी से निपट जाए। खासकर, हर गर्भवती महिलाएं यह सोचती हैं कि उनका प्रसव सामान्य तरीके से हो। जिसमें, सी-सेक्शन जैसी चीज़ें शामिल  हों। क्योंकि, महिलाएं सिजेरियन के नाम से ही काफी डर जाती हैं, कर देखा जाए तो इसके बाद माँ के शरीर को पूरी तरीके से ठीक होने में काफी समय लग जाता है। इसलिए, हर गर्भवती महिलाएं नॉर्मल डिलीवरी के जरिए ही बच्चे को जन्म देना चाहती हैं।

नॉर्मल डिलीवरी क्यों सी-सेक्शन से बेहतर है ?

जहाँ सामान्य प्रसव में शिशु का जन्म जन्म योनि के जरिये होता है, तो दूसरी ओर सी-सेक्शन में पेट के निचले हिस्से में चीरा लगा कर शिशु को निकाला जाता है। लेकिन, देखा जाए तो नॉर्मल प्रसव में आपको बहुत अधिक दर्द का सामना करना पड़ता है। जिसे सहन करना सब के बस की बात नहीं है। लेकिन, शिशु के जन्म के बाद ही आप कुछ ही दिनों में अपनी सामान्य अवस्था में आ जाती हैं। और जो सबसे खुशी की बात है वह यह है कि आपको अपने शिशु को तुरंत स्तनपान कराने का सुख मिलता है।

क्या पहली बार माँ बनने वाली महिलाएं सामान्य प्रसव से बच्चे को जन्म दे सकती हैं ?

यह मुख्य रूप से आपके गर्भावस्था पर निर्भर करता है कि आपका शिशु गर्भ में सही अवस्था में है या नहीं। क्योंकि, पहली बार कोई भी महिला आसानी से अपने बच्चे को सामान्य तरीके से जन्म दे सकती हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें गर्भवस्था से संबंधित परेशानी या कोई हाई रिस्क न हो।  

लेबर में कितना समय लगता है ?

यह कहना थोड़ा मुश्किल है कि आपका लेबर कितने देर के लिए होगा, लेकिन यह कुछ बातों पर निर्भर करता है, जैसे-

  • यदि यह आपका पहला बच्चा है

  • यदि यह आपका दूसरा बच्चा है, तो पहले में आपको कितना समय लगा था।

  • आपका गर्भाशय ग्रीवा कितना खुला है।

  • प्रसव-पीड़ा कितनी तेज़ी से हो रही है।

  • आपके बच्चे का पोजीशन क्या है।

  • पानी की थैली का फटना

नॉर्मल डिलीवरी के लिए क्या टिप्स हैं ?

यदि आप सच में चाहती हैं कि आपका प्रसव सामान्य तरीके से हो तो उसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा, जो निम्न हैं-

एक्सरसाइज

हालाँकि, देखा जाए तो नॉर्मल डिलीवरी के बाद जहां महिलाओं को रिकवर होने में ज्यादा समय नहीं लगता है, वहीं ऑपरेशन से होने वाली डिलीवरी में मां को काफी समय तक ध्यान रखना पड़ता है। इसलिए आप गर्भावस्था के दौरान एक चीज़ की मदद से नॉर्मल डिलीवरी के चांसेस को बड़ा सकती हैं, और वह है एक्सरसाइज। इतना ही नहीं, गर्भावस्था में व्या‍याम करने से न केवल सामान्य प्रसव के चांसेस बढ़ जाते हैं, बल्कि अन्य समस्याओं जैसे कि पीठ दर्द, कब्ज,गैस जैसी अनेकों समस्या से राहत मिलती है। इसके लिए आप वाकिंग, स्विमिंग, योग आदि का सहारा ले सकती हैं। लेकिन, ध्यान रहे कोई भी एक्सरसाइज शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

उचित आहार का सेवन करें

न केवल प्रसव के समय बल्कि गर्भवस्था के शुरुआती समय से ही आपको अपने खान-पान का उचित ध्यान रखना चाहिए। खासकर अपने आहार में विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम, ओमेगा फैटी एसिड आदि को शामिल करें। क्योंकि, ये सारी चीज़ें आपके शिशु के विकास में आपकी मदद करता है, और आप खुद के बॉडी में भी एक अलग तरह का एनर्जी महसूस कर सकती हैं।

तनाव से बच कर रहें

यह सच है कि प्रसव के समय महिलाएं काफी डर जाती हैं, और बहुत अधिक तनाव लेने लगती हैं। लेकिन, वो यह भूल जाती हैं कि यदि इस समय आप तनाव लेंगी तो यह आपके प्रसव-पीड़ा को और अधिक बढ़ा सकता है। इसलिए, इस दौरान अपने मन और दिमाग को शांत रखने की कोशिश करें इससे आपको काफी फायदा होगा।

तरल-पदार्थों का सेवन करें

इस समय आप खुद को जितना हो सके हाइड्रेटेड रखने की कोशिश करें, क्योंकि यह आपके सामान्य प्रसव में आपकी मदद कर सकता है। इस समय आपके बॉडी में पानी की कमी सही नहीं माना जाता है। इसके लिए आप पानी के अलावा, तरल पदार्थों जैसे कि सूप, जूस आदि का सेवन करें।

ब्रीथिंग टेक्नीक का ध्यान रखें

प्रसव की प्रक्रिया के दौरान हर समय आपको साँस लेने की ज़रूरत पड़ती है, इसके लिए जरूरी है आप ब्रीथिंग टेक्नीक का ध्यान रखें और उचित अभ्यास करें। क्योंकि, बच्चे के संपूर्ण विकास के लिए उचित और पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति अनिवार्य है। इसलिए, रोजाना गहरी साँस लेने का प्रैक्टिस करें क्योंकि यह आपको नॉर्मल डिलीवरी को बढ़ाने का काम करता है।

नियमित तौर पर पेरिनेल मसाज करें

आपको रोजाना पेरिनेल भाग का मसाज करना चाहिए, खासकर गर्भवस्था के 7वें महीने के बाद। क्योंकि, यह भी आपके प्राकृतिक प्रसव को बढ़ावा देता है।

हालाँकि, इन सब को करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें, ताकि डॉक्टर आपके गर्भावस्था की परेशानियों को ध्यान में रख कर उचित सलाह दें।

आपकी बिंदु- एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल aapkihindieditor@zenparent.in पर भेज सकते हैं।

loader