क्यों प्रेगनेंसी में शिशु के लिए प्रोटीन फायदेमंद है ?

बच्चे की कोशिकाओं के निर्माण के लिए प्रोटीन बेहद जरूरी होता है। क्योंकि, इसमें एमिनो एसिड्स होते हैं, जो शरीर की कोशिकाओं के ब्लॉक्स बनाने का कार्य करते हैं। इसीलिए यह बेहद जरूरी होता है कि प्रेगनेंसी के दौरान, महिला पूरी प्रेगनेंसी के दौरान, प्रोटीन का पर्याप्त मात्रा में सेवन करे। साथ ही प्रोटीन सेवन की मात्रा, दूसरी से तीसरी तिमाही में बेहद जरूरी हो जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान, बच्चे का विकास सबसे ज्यादा तेजी से होता है। इसी दौरान, आपके भी शरीर को प्रोटीन, जैसे स्तनों को प्रोटीन की बहुत अवश्यक्ता होती है। उदाहरण के तौर पर स्तनों के आकार में वृद्धि होना, और यही वृद्धि आगे जाकर स्तनपान में सहायक होती है।

प्रेग्नेंट वुमन को प्रत्येक दिन लगभग 70 ग्राम प्रोटीन की जरूरत होती है।

प्रोटीन के स्रोत

  • बीन्स प्रोटीन के लिए सबसे अच्छे स्रोत हैं। इनमें लीन मीट, पोल्ट्री, मछली शेल फिश, अंडे, दूध, मक्खन, टोफ़ू और दही।

  • वहीं एनीमल प्रोटीन (पशुओं से मिलने वाले प्रोटीन), अपने आप में सम्पूर्ण होता है। उसमें सभी नौ एमिनो एसिड तत्व मौजूद होते हैं, जो बाकी स्रोतों में नहीं होते।

  • इसके अलावा, यदि आप दिन भर में, अलग-अलग प्रकार -पदार्थों का सेवन करते हैं, तो उनसे आपको अलग-अलग प्रकार के एमिनो एसिड्स, जिनकी आपको आवश्यक्ता होती है मिल जाते हैं।

  • दिन में कम से कम, दो से तीन प्रोटीन-सर्विंग लेने से आपकी प्रोटीन की अवश्यक्ता पूरी हो जाती है। यदि आप पूरी प्रेगनेंसी के दौरान, पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन लेती हैं, तो आपका बेबी निसंदेह हेल्दी होता है।

loader