क्या प्रेगनेंसी के दौरान सुरक्षित है ओरल और ऐनल सेक्स?

यदि आप बिलकुल स्वस्थ हैं, और आपकी प्रेगनेंसी भी सुरक्षति है, तो आप प्रेगनेंसी में भी बिना किसी कठिनाई के किसी भी तरह की सेक्स लाइफ को एन्जॉय कर सकती हैं। प्रेगनेंसी के दौरान, ओरल सेक्स में भी कोई समस्या नहीं है, बस आपको कुछ बातों का ख्याल रखना होगा।

प्रेगनेंसी में ओरल सेक्स के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां-

  • यदि आपके पति क्लिटरिस और लेबिया को जीभ से स्पर्श करें या फिर सिर्फ चुंबन तक ही सीमित रहें तो बेहतर है। ऐसा इसलिए क्योंकि, योनि के अंदर जीभ डालना प्रेगनेंसी के दौरान सुरक्षित होता है।
  • आपके पति आपकी योनि में हवा न फूंकें। क्योंकि, कई बार ऐसा करने से वेजाइना में हवा के बुलबुले बन जाते हैं, और इससे आपकी रक्त वाहिकाओं में रुकावट पैदा हो सकती है। वाहिका में रुकावट पैदा हो सकती है। इसे ‘एयर एम्बोलिस्म’ कहते हैं, जो आप और आपके शिशु के लिए घातक हो सकता है।

आमतौर पर, प्रेगनेंसी के दौरान ऐनल सेक्स भी सुरक्षित माना जाता है, लेकिन इस दौरान भी कुछ सावधानियों जरूर बरती जानी चाहिए।

ऐनल सेक्स के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां-

  • यदि आप ने सेक्स की यह विधि पहले कभी नहीं अपनाई है, तो बिलकुल भी ट्राई बिल्कुल न करें, बल्कि बच्चे के जन्म तक का इंतजार करें।
  • सेक्स करते समय लुब्रीकेंट का प्रयोग अच्छे से किया जाना चाहिए, और साथ ही आपके पति का अंग थोड़ा कोमल होना चाहिए।

यदि आपको इस तरह की समस्याएं हों तो, ऐनल सेक्स से बचने-

  • अगर, आपको बवासीर है और उसमें रक्तस्त्राव भी हो रहा है, तो ऐसे में, काफी मात्रा में आपका खून बह सकता है। जो आप और आपके शिशु के लिए नुकसानदेह हो सकता है।
  • कब्ज जो कि गर्भावस्था में बहुत ही आम है, और ऐसे में यदि आप गुदा सेक्स करती हैं तो दरारें पड़ सकती हैं, साथ ही ब्लीडिंग की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।
  • यदि आपको प्लेसेंटा प्रिविया है, तो गुदा संभोग से उसे क्षति पहुंच सकती है। साथ ही इसके कारण रक्तस्त्राव भी  हो सकता है।
  • यदि आपके साथी यौन संचारित संक्रमण ( एसटीआई) है, तो यह गुदा सेक्स के माध्यम से और तेज़ी से फैल सकता है।
  • संबंध बनाने से पहले आपके साथी को कंडोम का प्रयोग करना चाहिए, साथ ही पुरुष को संबंध बनाने से पहले अपने जननांग को अच्छे से धो लेना चाहिए। क्योंकि, ऐसा न करने से  बैक्टेरियल वेजिनोसिस नामक संक्रमण आसानी से फ़ैल सकता है, और इससे गर्भपात हो सकता है।

इसके अलावा संबंध बनाने से पहले पति-पत्नी आपस में बात जरूर कर लें। क्योंकि यदि आप इसके लिए सहज महसूस नहीं कर रहीं हैं,  तो ऐसा न ही करें तो बेहतर होगा।

 

loader