जब प्रेग्नेंट वुमन के लिए जॉब हो जाए जरूरी

गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे मुश्किल होता है घर और ऑफिस में तालमेल बिठाना। सामान्यतः उन घरों में, जहाँ औरत की इनकम भी जीवन यापन के लिए मायने रखती हो। खास तौर पर, जब फाइनेंसियल कंडीशन थोड़ी सही न हो और घर पर पहले से ही कोई और छोटा बच्चा भी हो या घर इएमआई पर लिया गया हो। इस तरह की स्थितियों में महिलाओं को काम करना ही पड़ता है।

यहाँ कुछ ऐसी बातें हम शेयर कर रहें हैं, जिनसे शायद आपकी समस्या का हल निकल सके-  

अपने बॉस से बात करें- अपने बॉस से मेटरनिटी लीव के बारे में बात करें कि, क्या आप हेल्थ बेनिफिट्स की उम्मीद कर सकती हैं या नहीं। साथ ही अपने बॉस से इस बात की पुस्टि कर लें कि आपके द्वारा छुट्टी लिए जाने पर, आपकी जॉब को खतरा तो नहीं है, या मुझे दोबारा ज्वाइन करने दिया जायेगा या नहीं। अपनी मेटर्निटी लीव बेनिफिट के बारे में बात कर लें। ताकि, आप उसी हिसाब से अपनी योजना और बजट बनाएं। क्योंकि, ये सारी चीज़ें आपके तनाव को कम कर सकता है।  

अपने रेज्यूमे को अपडेट करें- प्रसव के बाद आप दूसरी जगह भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकती हैं। ऐसे में आपके अपने रेज्यूमे को अपडेट करना न भूलें। क्योंकि, यह भी हो सकता है कि अभी आप जिस कंपनी में हैं, वह आपके बच्चे और परिवार की जरूरतों को पूरा करने में सक्षम न हो, ऐसे में आपको नए जॉब की जरूरत पड़  सकती है।

वर्तमान पर ध्यान केंद्रित करें- आगे के बारे में सोाचना बंद कर दें कि, क्या सही होगा और क्या गलत। बल्कि सकारात्मक सोच को अपने अंदर रखें, और आगे की ओर बढ़ें।

याद रहे कि, तनाव लेने से आपकी किसी भी समस्या का समाधान नहीं होगा। बल्कि इससे लड़ कर आगे बढ़ना ही एक बेहतर विकल्प है। आपको यह नहीं भूलना चाहिए कि आपकी जॉब से बड़ी रेस्पोंसबिलिटी है आपका बच्चा, उसका ध्यान रखना बहुत जरूरी है।    

Open in app
loader