जब जरूरत से ज्यादा आधिकारिक हो जाएँ परिवार वाले

घर में बच्चे के आने की जितनी खुशी पेरेंट्स को होती है, उतनी ही खुशी परिवार के बाकि लोगों को भी होती है। ऐसे में, दादा- दादी और भाई- बहन सब इस खुशी का एक हिस्सा होना चाहते हैं। लेकिन, कभी-कभी यही पारिवारिक सदस्य बच्चे को लेकर कुछ ज्यादा ही परेशान (ओवरबियरिंग) हो जाते हैं।  

यहाँ ओवरबियरिंग से मतलब यह है कि, बच्चे के लिए कुछ ज्यादा ही कंसर्न दिखाना जैसे- बच्चे के नाम को लेकर,  बच्चे को कैसे उठाया जाना चाहिए, उसके सोने का समय, कब ब्रेस्टफीडिंग होनी चाहिए जैसी हजारों चीज़ों के लिए रोक-टोक करना। ये सारी चीज़ें आपके प्रेगनेंसी का एक हिस्सा होती है।

हालाँकि, अधिकांश लोग इस बारे में हार्मोन को दोषी मानते हैं। वैसे देखा जाए तो कुछ हद तक यह बात सही भी है। इस विषय पर अलग-अलग लोगों की अलग-अलग राय होती है।

आप इस तरह की चीजों से कुछ इस तरह  निपट सकती हैं-

  • आपको लोगों से अपनी भावनाओं को लेकर बात करनी होगी। उन्हें बताना होगा कि आप कैसा और क्या महसूस करती हैं।  
  • जब भी कोई आपको अपनी राय दे तो और आप उनकी राय से सहमत न हों तो शांत रहने की कोशिश करें। उनकी बातों को ध्यान से सुने। हो सकता है कि यह राय आपके होने वाले बेबी के लिए फायदेमंद हो।  
  • किसी को भी, किसी बात के लिए दोषी न ठहराए क्योंकि, वह कहीं न  कहीं आपके बेबी के लिए ही फिक्रमंद हैं। उनके साथ कठोरता से पेश न आएं।  
  • हर कोई आप से प्यार करता है, और सब आपके लिए अच्छा करना चाहते हैं, लेकिन यदि आपको लगता है कि वह जरूरत से ज्यादा हावी हो रहें हैं, तो उनके सामने अपनी बात रखने का कोई अच्छा तरीका निकालें। बजाय इसके कि आप उन्हें सीधे-सीधे कोई जवाब दे दें।   
  • अपने पति को यह समझाने की कोशिश करें कि इस समय आपको उनके साथ की जरूरत है। लेकिन, अपने घरवालों को ध्यान में रख कर कोई कदम उठाएं क्योंकि, रिश्तों की डोर बहुत ही नाजुक होती है जो आसानी से टूट सकती है।

loader