गर्भावस्था के दौरान इन 6 चीज़ों से हर महिलाएं डर जाती हैं !

गर्भवस्था का हर वो एक पल बेहद नाजुक होता है, क्योंकि इन दिनों आपको अपने साथ-साथ गर्भ में पल रहे शिशु का भी ध्यान रखना पड़ता है ताकि किसी तरह की कोई परेशानी न हो। लेकिन, इन सब के वाबजूद इन दौरान माँ के शरीर में कुछ ऐसे बदलाव होते हैं जो आपको भयभीत कर सकती है। खासकर उन महिलाओं के लिए यह काफी तकलीफ और डरावना होता है जो पहली बार माँ बन रही होती हैं। क्योंकि, वह इन बातों से अनजान होती हैं। इसलिए, आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रही हूँ जो आपको प्रेगनेंसी के दौरान डरा सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं-

https://www.stayathomemum.com

कमर दर्द

आमतौर पर गर्भावस्था के समय में महिलाओं का वजन बढ़ता है। बढ़े हुए वजन का प्रभाव मांसपेशियों और मुख्य रूप से कमर की हडि्डयों पर होता है, जिसके कारण इस तरह की समस्या उत्पन्न होती है। ऐसे में, इस तरह की परेशानी होने पर महिलाएं डर जाती हैं। हालाँकि, इस समय शरीर का वजन सन्तुलित रखने के लिए हल्का व्यायाम करना चाहिए। महिलाओं के शरीर में कमर दर्द होने का एक कारण कैल्शियम और प्रोटीन की कम मात्रा होना भी है। इसके अलावा महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान झुककर कार्य नहीं करना चाहिए। यह भी कमर दर्द का एक प्रमुख कारण होता है।

स्तनपान के क्षेत्रों में दर्द

इस दौरान, आपको इन जगहों में दर्द के साथ-साथ कुछ तरल पदार्थ भी देखने को मिल सकते हैं। ऐसे में, महिलाएं डर जाती हैं और मन में उल्टा-सीधा सोचने लगती हैं। हलांकि, इसके अलावा आपको लीवर, पेट, आंत आदि पर भी दबाव पड़ता है।

बालों का गिरना

https://www.evaidya.com

सामान्‍य तौर पर प्रतिदिन 100 बालों का गिरना स्‍वाभाविक होता है। हालांकि, गर्भावस्‍था के दौरान हारमोन्‍स में परिवर्तन होने के कारण बालों के गिरने में बढ़ोत्‍तरी हो सकती है। प्रसव के बाद शुरूआती 6 महीने में यह समस्‍या सबसे ज्‍यादा होती है। ऐसे में, इस तरह की समस्या आपको परेशान कर सकती है इसलिए इससे न डरें।

शरीर के निचले हिस्से में दर्द

प्रेग्नेंसी के आखिरी समय में महिलाओं को शरीर के निचले हिस्से में बहुत ज्यादा दर्द होता है। ऐसा बच्चे का सिर बड़ा होने की वजह से होता है। बच्चे के सिर का आकार बड़ा होने की वजह से यह उन जगहों में मौजूद नसों पर दबाव डालता है। जिससे यह दर्द काफी बढ़ जाता है। ऐसे में, घबराने की जगह हिम्मत से काम लें।

https://www.stayathomemum.com

थकान

गर्भावस्था के शुरुआती दौर से ही आपका शरीर शिशु को सहारा देने के लिए खुद को तैयार करता है। इस दौरान आपको थकान महसूस हो सकती है और आप सामान्य से अधिक बैठना या लेटना पसंद कर सकती हैं। यह शरीर में गर्भावस्था के हार्मोन के कारण होता है। ये आपको थकान, परेशान या भावुक कर सकते हैं।

http://st1.thehealthsite.com

उल्टी  

सुबह की मिचली शुरुआती गर्भावस्था का एक आम लक्षण है। यह अक्सर गर्भावस्था के छठे हफ्ते में शुरु होती है, मगर कभी-कभी यह चौथे सप्ताह में भी शुरु हो सकती है। आपको कै हो सकती है या फिर सिर्फ मिचली का एहसास हो सकता है। इसका नाम 'सुबह की मिचली' होने के बावजूद, यह आपको सुबह, दिन या रात में किसी भी वक्त हो सकता है।

इन सब के अलावा, आपके स्वाद में बदलाव के साथ-साथ आपको कब्ज की भी समस्या हो सकती है। इसलिए, घबराने की बजाए अपने से बड़े लोगों से बात करें ताकि आप अच्छा महसूस कर सकें।

loader