गर्भवती महिला को एक दिन में कितना दूध पीना चाहिए ?

प्रेगनेंसी में, महिलाओं को अपने उचित खान-पान का ध्यान रखना चाहिए, ताकि गर्भ में पल रहे शिशु का उचित तरीके से विकास हो सके। खासकर, इन दिनों गर्भवती महिला को दूध का सेवन करना चाहिए, यानि कि उन्हें इन दिनों कैल्शियम की बहुत जरूरत होती है। और दूध कैल्शियम का अच्छा स्रोत माना जाता है। क्योंकि, यह आपके अजन्मे शिशु के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। अगर देखा जाए तो एक गर्भवती महिला को एक दिन में 1 हजार मिलीग्राम से अधिक कैल्शियम की आवश्यकता होती है। ऐसे में कैल्शियम की आपूर्ति एक लिए दूध एक बेहतर विकल्प है।  

गर्भावस्था में क्यों जरूरी है कैल्शियम ?

गर्भ में आपके बच्चे का बहुत ही तेज़ी से विकास होता है, ऐसे में उसके लिए न केवल कैल्शियम विटामिन और खनिज की बहुत आवश्यकता होती है। हालाँकि, गर्भवस्था में उचित मात्रा में कैल्शियम का सेवन आपके हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने का काम करता है। साथ ही साथ यह आपके बच्चे के हड्डियों और दांतों के विकास में भी मदद करता है। इसलिए, आपके बच्चे को उसके हृदय, तंत्रिकाओं और मांसपेशियों के उचित विकास के लिए पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की आवश्यकता होती है।

गर्भावस्था में कैल्शियम की कमी से क्या होगा ?

जब आप माँ बनने वाली होती हैं तब आपके शरीर को बहुत अधिक कैल्शियम की आवश्यकता होती है। ऐसे में, यदि आप और आपके बच्चे दोनों को इसकी उचित मात्रा नहीं मिलती है तब आपका शिशु आपके हड्डियों से कैल्शियम लेना शुरू कर देता है। जिससे कि आपकी हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। इतना ही नहीं, इसकी कमी के कारण आपके शिशु के हड्डियों, दांत, ह्रदय, मांशपेशियों और नर्व्स का गठन अच्छे से नहीं हो पाएगा।

मुझे एक दिन में कितने दूध की जरूरत है ?

गर्भावस्था के दौरान आपको रोजाना कम से कम 4 से 5 कप दूध की जरूरत होती है। क्योंकि, तभी आप एक दिन के कैल्शियम की पूर्ति अपने शरीर के लिए कर सकती हैं, और जो आपके शिशु के विकास के लिए सही भी माना जाता है।

गर्भवस्था में कौन सा दूध पीना चाहिए ?

प्रेगनेंसी में दूध का चुनाव भी काफी-सोच समझ कर करें। खासकर, अपने प्रेगनेंसी डाइट में संतृप्त वसा वाले दूध का सेवन सिमित मात्रा में करना चाहिए। ऐसे में, इन दिनों आपको फैट-फ्री दूध का सेवन करना चाहिए, क्योंकि इसमें में भी कैल्शियम की उतनी ही मात्रा होती है जितना कि आपके बॉडी को जरूरत है। इसलिए सैचुरेटेड फैट को लेने से इस समय बचना चाहिए।  

हालाँकि, कुछ महिलाओं को सादा दूध पीना पसंद नहीं होता है, तो आप अन्य दुग्ध उत्पाद जैसे दही, लस्सी, मिल्कशेक, छाछ और पनीर ले सकती हैं।

दूध पीने का सही समय क्या होना चाहिए ?

गर्भावस्था में दूध पीने का सही समय रात को है, क्योंकि इसका दो कारण है एक तो यह है कि रात को सोने से पहले दूध आपको अच्छी नींद देने में मददगार साबित होता है। और दूसरी बात यह है कि दिन के समय दूध का सेवन करने से आपको पचने में परेशानी हो सकती है। जिससे कि आपका पेट भरा-भरा सा लग सकता है, इसके अलावा आपको गैस की समस्या भी हो सकती है।

आपकी बिंदु- एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल aapkihindieditor@zenparent.in पर भेज सकते हैं।

Feature Image Source: Livestrong.com

loader