गर्भावस्था में सफ़ेद पानी का आना- क्या शिशु के लिए ख़तरनाक है ?

गर्भवस्था में महिलाओं के शरीर में बहुत सारे परिवर्त्तन देखने को मिलते हैं, और इसकी असली वजह हार्मोन में परिवर्त्तन है। जिसका एक कारण है गर्भवस्था में सफ़ेद पानी का आना। जी हाँ, प्रेगनेंसी में सफ़ेद पानी का निकलना काफी आम बात है जो हर महिलाओं में सामान्य रूप से दिखाई देता है। जिसे, ल्यूकोरिया कहते हैं यह देखने में सफ़ेद, हल्का गाढ़ा और हल्का गंधहीन हो सकता है।

गर्भवस्था में सफ़ेद पानी क्यों निकलता है ?

गर्भवस्था में सफ़ेद पानी सर्वाइकल मीक्यूस होता है, जो कि इन दिनों काफी सामान्य माना जाता है। गर्भवती महिला में इस तरह की समस्या ज्यादातर थर्ड ट्राइमेस्टर में अधिक देखने के लिए मिलता है। हालाँकि, प्रेगनेंसी के समय इस तरह के सफ़ेद पदार्थ निकलने से आपके भ्रूण को काफी फायदा होता है। क्योंकि, यह गर्भाशय ग्रीवा में किसी भी प्रकार के संक्रमण से  सुरक्षा प्रदान करता है।

किस स्थिति में यह ख़तरनाक हो सकता है ?

यदि आपको ऐसा महसूस हो जैसे यूरीन की जगह पानी आ रहा हो, हालाँकि, इस तरह की समस्या यूटेरस के सूजे होने और ब्लैडर के भारीपन से होता है। वास्तव में यह अलग-अलग स्थितियों पर निर्भर करता है। लेकिन, जब आपके शरीर से बहुत अधिक मात्रा में पानी निकल रहा हो तब हो सकता है कि आपके पानी की थैली फट गई हो और ऐसे में आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

क्या सफ़ेद पानी के निकलने से शिशु को नुकसान हो सकता है ?

जैसा कि ऊपर भी बताया जा चूका है कि या आपके बॉडी के लिए अच्छा होता है, ठीक वैसे ही यह आपके शिशु के लिए भी अच्छा माना जाता है। क्योंकि, यह आपके शिशु को सुरक्षा प्रदान करता है लेकिन, यदि यह समस्या बढ़ जाए या फिर संक्रमण हो जाए तब समस्या उत्पन्न हो सकती है।

कब डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए ?

  • जब आपको लगे कि आपको वेजाइनल इंफेक्शन है, तब आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। क्योंकि, हो सकता है कि यह संक्रमण शिशु तक पहुँच सकता है।

  • जब योनि क्षेत्र में खुजली, जलन, लालिमा, या सूजन की समस्या हो।

  • यूरिन पास करते समय दर्द या जलन की समस्या होने पर।

  • जब आपका डिस्चार्ज हल्का खुनी हो।

Feature Image Source: everydayfamily.com

Open in app
loader