गर्भावस्था के दौरान कितना वजन आपके लिए अच्छा माना जाता है ?

गर्भावस्था के दौरान महिला का वजन बढ़ना बहुत ही आम है, क्योंकि एक हेल्दी बेबी के विकास और जन्म के लिए माँ का वजन बढ़ना अच्छा माना जाता है। लेकिन, एक लिमिट में रह कर ही वजन का बढ़ना अच्छा माना जाता है। हालाँकि, देखा जाए तो हर महिला का गर्भवस्था में शरीर का वजन अलग-अलग होता है। क्योंकि, किसी भी महिला का वजन उनके हाइट और बीएमआई पर निर्भर करता है।

गर्भावस्था में कितना वजन होना चाहिए?

प्रेगनेंसी के दौरान किसी भी स्वस्थ्य महिला का वजन 10 से 15 किलो तक वजन का बढ़ना अच्छा माना जाता है। हालाँकि, किसी भी महिला को गर्भवती होने के बाद 25 से 35 पाउंड तक अपना वजन बढ़ाना चाहिए। जबकि,अंडरवेट महिलाओं को 28 से 40 पाउंड (12 से 17 किलो) तक वजन बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए। वहीँ, अधिक वजन वाली महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान केवल 15 से 25 पौंड (6 से 11 किलो) वजन बढ़ाने की जरूरत होती है।

इन दिनों अधिक वजन कहाँ-कहाँ बढ़ता है ?

  • बेबी- 3.64 किलो

  • प्लेसेन्टा- 1 किलो

  • एमनियोटिक द्रव-1.5 से 2 किलो

  • स्तन- 0.9 किलो

  • ब्लड की मात्रा- 1.2 किलो

  • डिलीवरी और स्तनपान के लिए वसा का संग्रहण- 2 से 4 किलो

  • बड़ा गर्भाशय- 1 से 2 किलो

  • कुल वजन- 11 से 15 किलो

गर्भावस्था में कितना वजन आपके लिए है ख़तरनाक ?

डॉक्टर का मानना है कि किसी भी गर्भवती महिला का वजन प्रेगनेंसी से पहले के  बीएमआई को ध्यान में रख कर बढ़ाना चाहिए। ऐसे में, निचे कुछ बातों का जरूर ध्यान रखें गर्भवती महिलाएं जैसे कि-

  • यदि आपका बीएमआई प्रेगनेंसी से पहले 20 से कम था, तो आपको अपने गर्भावस्था में 11 से 17.5 किलो के बीच वजन बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए।

  • यदि आपका बीएमआई प्रेगनेंसी से पहले 25 से कम था, तो आपको अपने गर्भावस्था में 10 से 15 किलो वजन बढ़ाना चाहिए।

  • यदि प्रेगनेंसी से पहले आपका बीएमआई 27 से ज्यादा था, तब आपको इस दौरान 6 से 11 किलो वजन बढ़ाना चाहिए

प्रेगनेंसी में बढ़ते हुए वजन को कैसे कम करें ?

यदि गर्भावस्था के दौरान आपका वजन बहुत अधिक है तब ऐसे में आपके डॉक्टर आपको वजन कम करने की सलाह दे सकते हैं। ऐसे में, आप खुद से वजन कम करने की कोशिश न करें बल्कि डॉक्टर की देख-रेख में ही वजन कम करने की कोशिश करें। खासकर, गर्भावस्था के दौरान वजन कम करने के लिए कम भोजन या डाइटिंग करने की गलती भूलकर भी न करें। इसके लिए आप चाहें तो हल्के-फुल्के एक्सरसाइज कर सकती हैं जैसे कि टहलना, स्विमिंग आदि। लेकिन, इसके लिए भी डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

प्रेगनेंसी में सही तरीके से वजन को कैसे बढ़ाएं ?

गर्भावस्था के दौरान उचित-तरीके से वजन का बढ़ाया जाना बहुत जरूरी है ताकि आप एक हेल्दी बच्चे को जन्म दे सकें। इसके लिए निचे कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं, जो निम्न हैं-

छोटे-छोटे मील लें

रोजाना अपने डाइट में पांच से छह छोटे-छोटे मिल को शामिल करें, ताकि आपका पेट भी भरा रहे और आप एक ही समय में अधिक खाने से बचें।

छोटे-छोटे स्नैक्स अपने साथ रखें

इन दिनों हमेशा छोटे-छोटे स्नैक्स जैसे कि नट्स, किशमिश, पनीर, फ्रूट, ड्राई फ्रूट, आइसक्रीम या फिर दही भी खा सकती हैं।

कैलोरी और प्रोटीन का भी ध्यान रखें

यदि आप टोस्ट खाती हैं तो हमेशा ध्यान में रखें कि उसके ऊपर पीनट बटर, क्रैकर्स, सेब, केला आदि को उसके ऊपर डाल कर खा सकती हैं। क्योंकि, 1 टेबलस्पून क्रीमी पीनट बटर में करीब 100 कैलोरीज, और 7 ग्राम प्रोटीन की मात्रा होती है।  

कैल्शियम भी है जरूरी

इन दिनों बॉडी में कैल्शियम की पूर्ति के लिए आप बिना फैट वाले दूध, अंडे, साबुत अनाज या फिर आलू को जरूर शामिल करें।

डेयरी प्रोडक्ट

आपकी कैलोरी का करीब 35 प्रतिशत डेयरी उत्पादों जैसे कि मक्खन, दूध, पनीर, चीज़ और तेलों व मेवों (वसा) से मिलना चाहिए। यदि आपका वजन सामान्य से अधिक है, तो इनका सेवन थोड़ी कम मात्रा में करना चाहिए।

गर्भवस्था के दौरान वजन का बढ़ना क्यों जरूरी होता है ?

गर्भावस्था के दौरान अतिरिक्त वजन बढ़ने की जरूरत इसलिए पड़ती है क्योंकि, इससे आपके बच्चे को उचित पोषण के साथ-साथ आपमें दूध बनने के लिए भी इसकी आवश्यकता होती है। क्योंकि, दूध बनने के लिए 1000-1500 कैलोरी की आवश्यकता होती है।

मॉर्डर्न मोना- मदर लाइफस्टाइल! एक दैनिक कॉलम, जहाँ महिलाओं से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है।  जैसे- स्वास्थ्य, फैशन, फिटनेस, बच्चों का रख-रखाव, मनोरंजन, सेक्स आदि की जानकारी के लिए आप अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/communityपर भेज सकते हैं।

Feature Image Source: goodtoknow.uk

loader