गर्भावस्था के तीसरे महीने इन 6 चीज़ों का सेवन महिलाएं भूलकर भी न करें

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को न केवल शुरूआती महीनों में बल्कि पूरे नौ महीने तक खुद का ख्याल रखना पड़ता है। क्योंकि, इस समय थोड़ी सी गलती आपके लिए मुसीबत पैदा कर सकती हैं। ऐसे में, आप अपने खान-पान से संबंधित सभी बातों का बखूबी ध्यान रखें। क्योंकि, इस समय आपके खान-पान पर ही आपके बच्चे का विकास निर्भर करता है। ऐसे में, निचे कुछ खाद्य-पदार्थों के बारे में बात की जा रही है जिसको महिलाएं गर्भवस्था के दौरान भूलकर भी न खाएं, जिनमें निम्न शामिल हैं-

कच्चे-अधपके मीट

इस समय महिलाएं कच्चे-अधपके मांस को भूलकर भी न खाएं क्योंकि, यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है। इतना ही नहीं इस तरह के आहार को पचा पाना आपके लिए मुश्किल हो सकता है और साथ ही आप को संक्रमण का भी खतरा रहता है। इसके सेवन से आपके बच्चे के ग्रोथ पर विपरीत असर पड़ सकता है।

शराब का सेवन

इन दिनों महिलाएं भूलकर भी शराब को हाँथ न लगाएं, क्योंकि इससे न केवल आपके स्वास्थ्य को बल्कि शिशु के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ सकता है। इतना ही नहीं कभी-कभी शराब के सेवन से गर्भपात का खतरा भी हो सकता है।  

कच्चा अंडा

गर्भवस्था के दौरान महिलाएं कच्चे अंडे का सेवन भूलकर भी न करें क्योंकि, इससे संक्रमण का खतरा होता है जो आपके भ्रूण के विकास में बाधा उत्पन्न कर सकरा है। इसलिए इन दिनों जब भी अंडे का सेवन करें तो अच्छे से उबले और पके हुए अंडे का सेवन करें।

पपीता

 

गर्भावस्था में पपीते के सेवन के लिए भी मना किया जाता है, क्योंकि, इसमें लेटेक्स की अधिकता होने के साथ-साथ यह बहुत ज्यादा गर्म होता है। इसलिए, इसका सेवन इस दौरान भूल कर भी न करें क्योंकि यह आपके गर्भावस्था को नुकसान पहुंचा सकता है।

पनीर

ऐसा माना जाता है कि गर्भवस्था में सॉफ्ट चीज़ या पनीर के सेवन से इंफेक्शन का खतरा रहता है। क्योंकि, इसमें कोली नामक बैक्टीरिया होता है जो आपके गर्भवस्था के लिए नुकसान पहुंचा सकता है।

कच्चा दूध

इन दिनों कच्चे दूध का सेवन नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि इसमें सलमोनेला और अन्य हानिकारक बैक्टीरिया मौजूद होते हैं जो आपके अजन्मे बच्चे को हानि पहुंचा सकते हैं।

आपकी बिंदु- एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल aapkihindieditor@zenparent.in पर भेज सकते हैं।

loader