इन 4 लक्षणों को देखकर तुरंत करें प्रेगनेंसी टेस्ट

माँ बनना हर औरत के लिए सबसे खुशनुमा पल होता है, खासकर वह महिलाएं जो पहली बार माँ बन रही होती हैं। लेकिन, कुछ महिलाएं ऐसी भी होती हैं जिन्हें अपने प्रेगनेंसी के बारे में तुरंत पता नहीं चल पाता है, लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके और टिप्स बता रहें हैं जिससे कि आप पता कर सकती हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। हालांकि, अब बात यह आती है कि गर्भावस्था का परीक्षण कब किया जाना चाहिए। लेकिन, निचे कुछ टिप्स बताए जा रहें हैं कि आप प्रेगनेंसी कब टेस्ट कर सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल है-

पीरियड्स नहीं आने पर

हर महिला का पीरियड्स एक सही समय या उसके आस-पास आता है, लेकिन यदि आपका पीरियड्स आपके डेट के 2-3 दिनों बाद भी नहीं आता है तो आपको गर्भावस्था का परीक्षण करना चाहिए। क्योंकि, पीरियड्स बंद होने का मतलब है कि आप प्रेग्नेंट हैं।

बार-बार यूरिन पास करना

जब किसी महिला को पहले के मुकाबले बार-बार यूरिन पास करना पड़ रहा हो तो ऐसे में प्रेगनेंसी की जाँच की जानी चाहिए। क्योंकि, प्रेग्नेंट होने पर गर्भाशय, मूत्राशय पर दबाव डालता है, जिससे की बार-बार यूरीन पास करने जैसी समस्या उत्पन्न होने लगती है।

उल्टी की समस्या

गर्भधारण करते ही महिलाओं में मॉर्निंग सिकनेस की समस्या शुरू हो जाती है जिससे कि आपको सुबह के समय उल्टी होने लगती है। जब भी आपमें इस तरह की समस्या उत्पन्न हो तो तुरंत प्रेगनेंसी टेस्ट करें।

स्तनों और निप्पल के रंग में परिवर्तन

प्रेगनेंसी में महिलाओं के स्तन में दर्द के साथ-साथ निप्पल के रंग में बदलाव देखने को मिलता है। जो गर्भावस्‍था का पहला संकेत माना जा सकता है। हालांकि ये दर्द मासिक धर्म से पहले भी होता है, लेकिन यह स्थिति गर्भावस्था के दौरान अधिक होती है।

इसके अलावा, जब भी आप घर में गर्भावस्था का परीक्षण करें तो सुबह के पहले यूरिन के साथ करें। क्योंकि, इस समय किया गया टेस्ट सटीक होता है।

loader