अपने पहले बच्चे को तीसरी तिमाही में स्तनपान कराना

क्या पहले बच्चे को तीसरी तिमाही में स्तनपान कराना उचित है ?

जी हाँ आप अपने पहले बच्चे को तीसरी तिमाही में स्तनपान करा सकती हैं। इससे आपकी गर्भावस्था या आपके गर्भ में पल रहे शिशु को किसी भी तरह नुकसान नहीं पहुंचता।

आपको केवल यह सुनिश्चित करना होगा कि आप पौष्टिक खाना खाएं और पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं। यह इसलिए जरुरी है, ताकि आपके शरीर को गर्भावस्था और स्तनपान दोनों की ही जरुरतें पूरी करने के लिए पोषक तत्व और उर्जा मिल सके।

हालाँकि, दूसरे शिशु के जन्म के बाद भी आप अपने नवजात के साथ-साथ पहले शिशु को भी स्तनपान करा सकती हैं। इसे टैंडम स्तनपान कहा जाता है।

लेकिन, कुछ ऐसी परिस्थितियां ऐसी भी हैं, जिनमें बच्चे का दूध छुड़ाना ही बेहतर रहता है, जैसे कि-

  • आपका पहला प्रसव समय से पहले हुआ था।

  • आपका पहले गर्भपात हो चुका है।

  • गर्भावस्था के दौरान आपका वजन पर्याप्त नहीं बढ़ रहा।

  • आपको रक्तस्त्राव या खून के धब्बे हो रहे हैं।

गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में आपको स्तनपान करवाने में हल्का दर्द महसूस हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि हॉर्मोन में बदलाव के कारण आपके निपल अतिसंवेदनशील हो सकते हैं या फिर उनमें दर्द हो सकता है।

इस समय आपको अपने पहले शिशु पर ध्यान देने की आवश्यकता होगी कि उसका उचित वजन बढ़ना जारी रहे। यदि वह एक साल से भी छोटा है और मुख्यत: आपका दूध ही पी रहा है, तो यह और भी महत्वपूर्ण है।

अगर, आपका पहला बच्चा ठोस आहार लेना शुरु कर दिया है, फिर भी वह स्तनपान जारी रखना चाहता है, तो इस बात कि चिंता न करें कि वह आपका कोलोस्ट्रम पी रहा है। आपका शरीर यह विशेष दूध तब तक बनाना जारी रखेगा, जब तक आपके नवजात को इसकी जरुरत होगी।

अगर आप अभी गर्भवती नहीं हैं, मगर इसके लिए प्रयास कर नहीं हैं, तो ध्यान दें कि स्तनपान के दौरान गर्भधारण करना मुश्किल हो सकता है। खासकर तब जब आपको स्तनपान कराने के लिए रात में बहुत बार उठना पड़ रहा है।

loader