5 वें हफ्ते में आपका शरीर

इस हफ्ते से आप गर्भावस्था के लक्षण को महसूस कर सकती हैं। जैसे कि मॉर्निंग सिकनेस और दिन में आप किसी भी समय मिचली महसूस कर सकती हैं। इसके अलावा, आपके स्तन में भारीपन और बार-बार यूरिन पास करने जैसी स्थिति उत्पन हो सकती है, जो कि प्रेगनेंसी के समय बहुत सामान्य है जो अधिकांश महिलाओं में देखने को मिलती है।

 

हालाँकि, इसमें परेशांन होने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि यह प्रेगनेंसी का एक हिस्सा है। क्योंकि, कुछ महिलाओं को पहली तिमाही के दौरान सिर दर्द जैसी समस्या भी देखने को मिलती है।

 

इसके अलावा, जो सबसे ज्यादा ध्यान देने युक्त बातें हैं, वह यह है कि आपको प्रेगनेंसी के हर कदम पर अपने खाने पीने का अच्छे से ख्याल रखना होगा ताकि बच्चे को शुरूआती पोषण मिल सके। क्योंकि, आपके खाने-पीने पर ही बच्चे का विकास निर्भर करता है। ऐसे में, आप रेगुलर मिल और पेय पदार्थों का सेवन करें, जिससे कि अपच जैसी समस्या उत्पन्न न हो। साथ ही, मतली और थकान से छुटकारा पाने के लिए आप सभी तरह के खाद्य पदार्थों का सेवन करें, खासकर यदि आप शाकाहारी हैं तो।

 

प्रेगनेंसी के समय जो सबसे अधिक ध्यान देने युक्त बातें हैं, वह यह हैं कि आप अल्कोहल आदि का सेवन भूल कर भी न करें, क्योंकि ये आपके बच्चे के विकास में बाधा उत्पन कर सकता है।

सामान्यतः प्रेगनेंसी के समय एक्सरसाइज करना बहुत फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि इससे आपके मांशपेशियों को मजबूती मिलती है। जिससे कि आपको डिलीवरी के समय दर्द जैसी समस्या से थोड़ा राहत मिल सकता है। इसके अलावा, आप प्रेगनेंसी के दौरान बढ़ने वाले अतिरिक्त वेट को भी कम कर सकती हैं। अगर आप चाहें तो कंपनी के तौर पर अपने हसबैंड की मदद ले सकती हैं। हालाँकि, एक बात का ध्यान हमेशा रखें कि आप जो भी एक्सरसाइज कर रही हों वह डॉक्टर के देखरेख में कर रही हों।   

loader