सूती कपड़ों में सिकुड़न को इन आसान टिप्स से तुरंत करें खत्म

अक्सर आपने देखा होगा कि सूती कपड़े हमेशा श्रिंक यानि की सिकुड़ जाते हैं, जो पहनने में बहुत ही भद्दे दिखाई देते हैं। आमतौर पर लोग कपड़ों में सिकुड़न आने के बाद उसे हटा देते हैं, यानि कि वह उसे दुबारा नहीं पहनते हैं। लेकिन, आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रहें हैं जिसके जरीए आप किसी भी तरह के कपड़े में पड़े सिकुड़न को ख़त्म कर सकती हैं।

सूती कपड़ों से सिकुड़न को हटाना

इसमें कोई शक नहीं है कि सूती के कपड़े पहनने में बहुत ही ज्यादा आरामदायक होते हैं। ज्यादातर लोग अपने डेली यूज़ के लिए सूती कपड़ों का ही इस्तेमाल करते हैं। लेकिन, इसका रख-रखाव करने में थोड़ी सी परेशानी होती है। खासकर इस तरह के कपड़े बहुत जल्दी सिकुड़ जाते हैं। लेकिन इस समस्या से आपको निजात मिल सकती है और वह है उबले हुए पानी। अब देखना यह होगा कि इसका प्रयोग कैसे करना है।

– सबसे पहले किसी बड़े से बर्तन में उतनी मात्रा में पानी लें जितने में कि आपका कपड़ा उसमें बहुत अच्छे से डूब जाए उसके बाद उसे उबलने के लिए चूल्हे पर चढ़ाएं।

– अब इसमें सिकुड़न वाले कपड़े को डाल दें और करीब 20 मिनट तक उसे छोड़ दें, और बाद में गैस बंद कर दें।

– अब कपड़े को ठंडा होने तक का इंतज़ार करें, उसके बाद उसे ठंडे पानी में डालें, उसेक बाद इसे निकाल  लें।

– अब इसे अच्छे से सूखा लें, आप चाहें तो ड्रायर या कड़ी धुप में भी डाल सकते हैं ताकि यह अच्छे से सूख जाए। हालाँकि, ड्रायर सिकुड़े कपड़ों को सीधा करने में मदद करता है।

– अब आप आयरन कर के पहन सकते हैं, आपको यकीन ह नहीं होगा कि यह सिकुड़न वाले कपड़े हैं।

ऊनी कपड़ों से सिकुड़न हटाना

आपने देखा होगा कि जो ऊनी के कपड़े होते हैं उनमें कुछ ही दिन बाद सिकुड़न की समस्या आने लगती है। हालाँकि, इसको धुलने के लिए अलग डिटर्जेंट भी आते हैं ताकि इसे सिकुड़ने से बचाया जा सके। इसके लिए आप निचे बताए गए दिशा-निर्देशों को फॉलो करें-

– सबसे पहले किसी बड़े से बाल्टी या टब में गुनगुना पानी डालें। आपको पता होना चाहिए कि ऊनी कपड़ों में अधिक पानी की जरूरत होती है, इसलिए अधिक पानी डालें।

– उसके बाद इसमें आप बेबी शैम्पू या कंडीशनर मिलाकर अच्छे से मिलाएं ताकि झाग बन सके।

– अब इसमें कपड़ों को डुबाकर 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें। अगर आप चाहें तो इसे हल्के हांथों से खींच भी सकती हैं।

– अब आप साबुन वाले पानी के घोल से कपड़ों को बाहर निकालें और अच्छी तरह से फ्रेश वाटर में धुल कर उसका पानी निकलने के लिए छोड़ दें। ध्यान रहे इसे अच्छे से सुखाना जरूरी है। हालाँकि, आप चाहें तो बीच-बीच में सिकुड़न वाली जगह को हल्के तौर पर खींच भी सकती हैं।

इन बातों का भी ध्यान रखें-

– पहली बार किसी भी सूती या रंगीन कपड़ों को धुलने से पहले उसमें नमक डालकर धुलें। इससे न तो कपड़ों में जल्दी सिकुड़न की समस्या आती है या फिर रंग जाता है।

– साड़ी को धोने के बाद उसमें से पानी को कभी भी निचोड़ कर न  निकालें, इससे कपड़ों में सिकुड़न आती हैं।

– कपड़े में लगे किसी भी तरह के दाग को नींबू के रस की मदद से तुरंत छुड़ा लें।

Feature Image Source: gawkerassets.com

loader