शिशु के दांत निकलते समय कारगर हैं यह 5 घरेलू नुस्ख़े

बच्चों में दांत निकलना बेहद आम बात है, खासकर 9 से 10 महीनों के बीच इनमें दांत निकलना शुरू हो जाता है। लेकिन, दांत निकलते समय बच्चों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, जैसे कि बार-बार पॉटी होना, बुखार आना आदि के रूप में। क्योंकि, दांत आने के दौरान बच्चों को निम्न परेशानी हो सकती है, जैसे-

  • बच्चों के मसूढ़ों मे सूजन, और दर्द।

  • बार-बार दस्त लगना

  • बुखार आना।

  • बच्चे का चिड़चिड़ा होना और अधिक रोना।

लेकिन, कुछ घरेलू उपाय के जरिए इसे ठीक किया जा सकता है, जिनमें निम्न शामिल हैं-    

बच्चे को तरल पदार्थ दें

इस दौरान बच्चे को आसानी से पचने वाले खाद्य और तरल पदार्थ दें, क्योंकि इस तरह के खाद्य पदार्थों से बच्चों के मसूढ़ों पर ज्यादा जोर नहीं पड़ेगा। ऐसे में, आप खिचड़ी, मोसम्मी का जूस व केला आदि जैसी चीजें खाने को दें।  

ठंडा आहार

दांत निकलते समय बच्चों को ठंडे आहार दें, जैसे कि यदि दूध भी दें तो उसे ठंडा कर के दें इससे बच्चे के मसूढ़ों में होने वाले दर्द से राहत मिलती है।  

मसूड़ों की मसाज

डॉक्टर का मानना है कि दांत निकलते समय बच्चे के मसूड़ों की मसाज करनी चाहिए। इसके लिए आप अपने उँगलियों से बच्चों के मसूड़ों पर दवाब बनायें, इससे उसे काफी आराम मिलेगा। लेकिन, मसाज करने से पहले अपने हाथों को धोना न भूलें, क्योंकि इससे बच्चे को संक्रमण होने का खतरा बढ़ सकता है।

गाजर या सख्त चीजें दें

मसूढ़े की खुजली से राहत के लिए गाजर और बिस्किट जैसी चीजें बच्चे के हाथ में दें। क्योंकि ये चीजें सख्त और मुलायम होती है जिससे बच्चे को मसूढ़े की खुजली में राहत मिलती है।

शहद

बच्चे के दांत निकलते समय उसके मसूढ़ों पर शहद रगड़ना चाहिए। इसके अलावा, शहद और अंगूर का रस मिलाकर 2 चम्मच की मात्रा में बच्चे को कुछ दिनों तक रोज पिलाएं, इससे दांत जल्दी और आसानी से निकलते हैं।

आपकी बिंदु– एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/community पर भेज सकते हैं।

प्रेगनेंसी और पेरेंटिंग पर विशेषज्ञों की सलाह प्राप्त करें, अन्य माओं के साथ चैट करें और अपने बेबी के लिए अधिक से अधिक विशेस डील्स जीतें ।हमारे साथ तुरंत रजिस्टर करें।

loader