प्रेगनेंसी के आख़िरी महीने आप अपने प्रसव को बना सकती हैं बेहद आसान

गर्भावस्था का हर वो एक पल आपके लिए मायने रखता है, आप अपने अंदर शिशु की हर गतिविधि को महसूस करते हैं। लेकिन, जब वह बाहरी दुनिया में आने के लिए पूर्ण रूप से तैयार होता है तब उसकी फीलिंग आपके लिए सबसे अलग होती है। खासकर जो महिला पहली बार माँ बन रही होती हैं, उनके लिए यह अहसास सबसे अलग होता है।

हालाँकि, जब आप अपने प्रसव के बेहद करीब होती हैं तब आपके अंदर एक अलग तरह का डर बना रहता है। लेकिन, यदि आप चाहें तो अपने इस समय को भी आप आसानी से हैंडल कर सकती हैं।

ऐसे में, यहाँ आपकी गर्भावस्था के अंतिम कुछ दिनों से निपटने के लिए कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं, जो निम्न हैं-

अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें-

  • इस समय आपको कब्ज की समस्या रह सकती है, क्योंकि अभी आप जो कुछ भी खाती हैं वह सब शिशु के द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है।
  • संकुचन और अपने ब्रीदिंग को सही रखने के लिए आप रोजाना एक्सरसाइज करें।
  • इन सब के अलावा, आप पहले की अपेक्षा अधिक यूरिन पास कर सकती हैं। क्योंकि, शिशु अब बिल्कुल निचे की ओर आ गया होता है।

प्रसव के दौरान लेबर पेन को कैसे कम करें ?

इस समय किसी भी महिला के लिए लेबर पेन सबसे दुखभरा होता है, लेकिन इसके बिना आप अपने बच्चे को जन्म भी नहीं दे सकती हैं। ऐसे में, निचे कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं जिसके जरिए आप इसे थोड़ा कम कर सकती हैं-

खजूर का सेवन

यदि आप अपने लेबर पेन को बिना दर्द के कम कर सकती हैं तो इस समय खजूर का सेवन अच्छा माना जाता है। क्योंकि, यह गर्भाशय ग्रीवा को फैलने में मदद करता है और इसमें ऑक्सीटोकिन होता है जो संकुचन को कम करने में भी मदद करता है।

जितना हो सके आराम करें

प्रसव न केवल आपके बॉडी को अंदर से कमजोर करता है ब्लकि यह आपके दिल और दिमाग को भी थका देता है। ऐसे में, इस समय आप जितना हो सके आराम करने की कोशिश करें। क्योंकि, इससे आपको प्रसव के समय काफी आराम मिलेगा।

पैरों की एक्सरसाइज करें

प्रसव के समय आपके पैरों की भूमिका काफी अहम होती है, क्योंकि इस समय आपके पैरों की सही स्थिति आपके आसान डिलीवरी में अहम रोल निभाता है। ऐसे में, यदि आप अक्सर व्यायाम कर रहे हैं और अपने पैर की मांसपेशियों को मजबूत कर रहे हैं, तो यह आपके लिए आसान होना चाहिए।

साँस की न होने दें समस्या

डीप ब्रीदिंग लेने का रोजाना अभ्यास करें इससे आप जल्दी थकेंगी नहीं, और इससे आप काफी आराम भी महसूस करेंगी।

इन सब के अलावा, आप खुद को तनावमुक्त रखने की कोशिश करें से आप और आपके बच्चे के ऊपर अच्छा प्रभाव पड़ेगा।

loader