प्री-स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए 5 आसान लंच बॉक्स टिप्स

5 quick tips for packing your preschooler's lunch

एक पेरेंट्स के लिए सबसे मुश्किल काम होता है अपने बच्चों को प्री-स्कूल में भेजना। क्योंकि, इस समय बच्चे बहुत छोटे होते हैं उन्हें खुद का केयर कैसे करना है बिल्कुल भी पता नहीं होता है। हालाँकि, वहाँ उसके ख्याल करने वाले लोग मौजूद होते हैं। लेकिन, पेरेंट्स होने के नाते आपका पूरा फर्ज बनता है कि आप उनके खाने-पीने का बखूबी ख्याल रखें। क्योंकि, इस उम्र में बच्चों को सबसे अधिक प्रोटीन और विटामिन की जरूरत होती है। ऐसे में, कुछ ऐसे टिप्स बताए जा रहें हैं, जिसका प्रयोग आप अपने  बच्चे के लंच बॉक्स को तैयार करते समय इसको फॉलो कर सकती हैं, जो निम्न हैं-

उचित मात्रा में लंच पैक करें

सबसे पहले पेरेंट्स इस बात का ध्यान रखें कि, बच्चे अपने आधा-अधूरा लंच बॉक्स को वापस घर न लाएं। क्योंकि, इस उम्र में बचे आधे-अधूरे छोड़े हुए खानों को वापस लौटा कर घर ले आते हैं। ऐसे में, आप उतना ही लंच पैक करें जितना कि बच्चे खा पाएं। क्योंकि, बच्चे उतना ही खाना खायेंगे जितना उन्हें खाना होगा, खासकर छोटे बच्चे। इस उम्र में बच्चों के लिए पांच अंगूर के दाने काफी हैं, एक बड़े अंगूर के गुच्छे की तुलना में। ऐसे में, आप इन तकनीकों को जरूर अपनाएं आपका बच्चा लंच वापस घर नहीं लाएगा।  

हैंडी फ़ूड देने की कोशिश करें

हैंडी फ़ूड कहने का मतलब यह है कि वैसे खाने को पैक करें जिसे बच्चे आसानी से अपने हाथों में पकड़ कर खा सकें। जैसे कि यदि आप उनके लंच बॉक्स में सैंडविच पैक करते हैं, तब आप उसे छोटे-छोटे भागों में काट दें ताकि वह आसानी से पकड़ कर खा सकें। इसके अलावा, यदि आप कोई फल दे रही हों तो उसे भी स्लाइस में काट कर दें, क्योंकि छोटे बच्चे फिंगर फ़ूड को बहुत अच्छे से खाते हैं। इसके अलावा, इसे आप कपड़े के नैपकिन में पैक करें ताकि वह अपने हाथों को गन्दा न कर सके।  

पैकेजिंग को ध्यान में रखें

इसके अलावा, जो सबसे ध्यान देने वाली बातें हैं वह है पैकेजिंग की, क्योंकि बच्चे इस उम्र में पैकेजिंग वाले फ़ूड को खाने में सक्षम नहीं होते हैं। खासकर केला जैसे फ्रूट को बच्चे इस उम्र में अच्छे से छिलके हटा कर नहीं खा पाते हैं। इसके अलावा, उनके लंच बॉक्स ऐसे होने चाहिए जिसे वह आसानी से खोल कर बंद कर सकें।

गले में फसने वाले फ़ूड न दें

4 साल या उससे छोटे उम्र के बच्चों को ऐसी चीजें लंच बॉक्स में पैक न करें जो उनके गले में अटकती हो। खासकर- हॉट डॉग, पॉपकॉर्न, बादाम, साबुत अंगूर और मांस के पीस आदि को भूल कर भी देने की कोशिश न करें, क्योंकि छोटे बच्चे इन चीजों को आसानी से गले में फसा लेते हैं।  

 

बच्चों का पसंदीदा लंच पैक करें

बच्चे हमेशा एक जैसे लंच खा कर बोर हो जाते हैं, ऐसे में यह कोशिश करें कि उनका लंच बॉक्स हेल्दी होने के साथ-साथ उनके पसंद का भी हो जिसे वह बहुत चाव से खाते हों। ऐसे में, यह समय आपके लिए उचित है जब आप अपने बच्चों को हेल्दी खाना खाने की आदत डालें। जैसे कि सैंडविच की जगह आप, चिकन और उबले अंडे को भी डाल सकती हैं। हालांकि, इस समय यह गलती भूल कर भी न करें कि आपका बच्चा लंच टाइम में हरी सब्जियों को खायगा। इसलिए उन्हीं लंच को पैक करें जिसे आपका बच्चा मन से खाता हो।

 
 

 

 

loader