नेचुरोपैथिक डाइट को फॉलो कर तुरंत करें अपना वजन कम !

आज के समय मोटापा हर किसी के लिए परेशानी का सबब बना हुआ, जिससे कि हर कोई परेशान है। इतना ही नहीं, इस समस्या से निजात पाने के लिए लोग न जाने क्या-क्या उपाय नहीं करते हैं। लेकिन, एक चीज़ें हैं जिसे अपना कर आप अपना वजन कम कर सकते हैं और वह है नेचुरोपैथिक डाइट। क्योंकि, नेचुरोपैथिक चिकित्सक किसी खास उपचार के बजाए इस बात पर बल देते हैं कि आपका आहार और लाइफस्टाइल कैसा है। क्योंकि, यह चीज़ें आपके अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। 

आमतौर पर, एक नेचुरोपैथिक डाइट आपके अंदर किसी भी तरह के बीमारी को रोकने, ऊर्जा में वृद्धि के साथ-साथ आपके पूरे स्वास्थ्य में सुधार करने का काम करता है। इतना ही नहीं यह आपके शरीर में नेचुरल खाद्य-पदार्थों पर बल देता है न कि आर्टिफिशियल और बाहरी खाद्य-पदार्थों पर। क्योंकि, ऐसे आहार आपके वजन को कम करने की बजाए इसे बढ़ाने का काम करता है। हालाँकि, नेचुरोपैथिक डाइट में मुख्य रूप से कच्ची सब्जियां जैसे कि आर्गेनिक और सीजनल के साथ-साथ एंटीबायोटिक-फ्री होनी चाहिए।    

नेचुरोपैथिक डाइट के फायदे 

नेचुरोपैथिक दवा विशेष रूप से इस बात पर बल देता है कि जब आप एक आहार का सेवन करते हैं और जब उसमें प्राकृतिक या पौष्टिक भोजन शामिल नहीं होता है, तब वह आपके शरीर को विष देने वाला विषाक्त पदार्थों की तरह होता है। जिसमें मुख्य रूप से पाचन संबंधी समस्या, फ़ूड एलर्जी, कोलेस्ट्रॉल की उच्च मात्रा, तनाव और चिंता शामिल है। 

इसके लिए आहार 

नेचुरोपैथिक डाइट के अनुसार आपको रोजाना लगभग 40 प्रतिशत कैलोरी, 30 प्रतिशत प्रोटीन और लगभग 30 प्रतिशत वसा की जरूरत पड़ती है। इसके अलावा, आप अपने आहार में रोजाना हरी-पत्तेदार सब्जियों, मौसमी फल, बीन्स, ब्राउन राइस या ओटमील को शामिल कर सकते हैं। साथ ही रोजाना रेड मीट, सी फ़ूड आदि के सेवन से बचे। 

किन खाद्य-पदार्थों को खाने से बचना चाहिए ?

नेचुरोपैथ्स सभी प्रकार के परिशोधित अनाज से बचने की सलाह देते हैं, जैसे कि होल व्हीट ब्रेड और होल ग्रेन पास्ता जैसी चीज़ों से। इसके साथ ही बहुत अधिक चीनी या फिर उससे तैयार किए गए उत्पाद, मसालेदार खाद्य पदार्थ, मशरूम, नियमित डेयरी आइटम, आलू या डिब्बाबंद फ़ूड आदि से दूर रहने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा, सी फ़ूड जैसे कि लो मरकरी मछली, ट्यूना या मैकेरल आदि पर। साथ ही, आप एल्कोहल का सेवन न करें। 

हालाँकि, यदि आप अपने जिंदगी में  नेचुरोपैथिक डाइट को फॉलो करते हैं तब आपमें न केवल वजन कम करने में आसान होगा बल्कि आप इन गंभीर चिकित्सकीय समस्याओं से भी दूर रह सकती हैं जैसे कि कैंसर और हृदय रोग के रूप में। इसके अलावा, यदि आप अपने आहार में नमक की मात्रा को सतुंलित रखती हैं तब आगे चलकर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात मिलेगी। साथ ही आप रोजाना, आर्टिफिशियल पेय पदार्थों को पीने से बचें, क्योंकि यह आपके शरीर में अतिरिक्त कैलोरी लेने से आपकी मदद कर सकता है।

Feature Image Source: cnn.com

loader