किन महिलाओं को कॉपर टी नहीं लगवाना चाहिए ?

आज के समय में अनचाहे प्रेगनेंसी से बचने के लिए महिलाएं तरह-तरह के बर्थ कंट्रोल का सहारा लेती हैं, जैसे कि गर्भनिरोधक दवाओं से लेकर कॉपर टी तक का। अब आप सोच रही होंगी कि यह कॉपर टी क्या है।

कॉपर टी क्या है ?

साफ शब्दों में कहें तो, कॉपर टी अनचाहे प्रेगनेंसी से बचने का एक अच्छा तरीका होता है जो T आकार में बना होता है। इसे महिला के गर्भाशय के अंदर डाला जाता है। इसमें एक प्लास्टिक का धागा लगा होता है जो योनि के बाहर लटका होता है। हालाँकि, जब भी आप इसका प्रयोग करें तो डॉक्टर या एक्सपर्ट की देख-रेख में ही करें। क्योंकि, इसका प्रयोग भी काफी सोच-समझ कर करना चाहिए।

कॉपर टी किन महिलाओं को नहीं लगवाना चाहिए ?

यह बिल्कुल भी जरूरी नहीं है कि हर महिला को हर चीज़ सूट करे, क्योंकि कॉपर टी का प्रयोग आपके स्वास्थ्य से जुड़ी होती हैं, इसलिए निचे कुछ बातें बताई जा रही हैं ताकि महिला इसे लगाते समय जरूर ध्यान में रखें-

1 बार भी माँ न बनने पर

उन महिलाओं को कॉपर टी के प्रयोग से बचना चाहिए जो एक बार भी माँ नहीं बनी हों। क्योंकि, एक शोध में यह बात सामने आई हैं कि शादी के तुरंत बाद जो महिलाएं अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने के लिए कॉपर टी का प्रयोग करती हैं, उन्हें बाद में गर्भधारण में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इसलिए, अगर आप इस समय कॉपर टी लगवाने के बारे में सोच रही हैं तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

एलर्जी या संक्रमण की समस्या होने पर

कुछ महिलाओं को मूत्र मार्ग में संक्रमण के साथ, लाल धब्बे और खुजली की समस्या हो तो इसे न लगाएं। क्योंकि, इसके लगाने से आपकी समस्या और भी अधिक बढ़ सकती है। इसके अलावा, यदि आपको इस तरह की परेशानी कॉपर टी लगाने के बाद उत्पन्न हो तो तुंरत इसे हटा देना चाहिए।

अनियमित पीरियड्स होने पर

यदि किसी महिला में अनियमित महावारी की समस्या हो या फिर योनि स्राव की समस्या हो तब इसका प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। अगर आप यह जानते हुए भी इसका प्रयोग करती हैं तब आपको अत्यधिक ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है जो बाद में आपके लिए घातक हो सकता है।

ओवेरियन सिस्ट

जिन महिलाओं के गर्भाशय में किसी भी तरह का कोई गांठ या अन्य परेशानी हो तो उन्हें कॉपर टी लगाने से बचा जाना चाहिए। क्योंकि, यह आपकी मुश्किलें और बढ़ा सकता है।

किन महिलाओं के लिए कॉपर टी का प्रयोग सुरक्षित माना जाता है ?

हालाँकि, उन महिलाओं के लिए इसका प्रयोग बहुत ही अच्छा माना जाता है, जिनमें निम्न शामिल हैं-

  • वह महिलाएं जो एक बार माँ बन गई हों और अपने दूसरे बच्चे में कुछ दिनों का गैप चाहती हैं वह कॉपर टी लगवा सकती हैं।

  • वह महिलाएं, जिनमें एक्टोपिक प्रेगनेंसी का इतिहास रहा हो उनके लिए  बेहतर विकल्प है।

  • उन महिलाओं के लिए भी यह सुरक्षित माना जाता है, जिनमें डाइबिटीज़ का खतरा हो।

  • इसके अलावा, कॉपर टी लगाना उन महिलाओं के लिए भी सुरक्षित माना जाता है जिनमें एंडोमेट्रिओसिस की समस्या हो।

आपकी बिंदु- एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल aapkihindieditor@zenparent.in पर भेज सकते हैं।

Feature Image Source: health.com

loader