खाने के समय में करें बदलाव और पाएं मोटापे से मुक्ति

दुबले होने के लिए लोग न जाने कौन-कौन से नुस्खे नहीं आजमाते हैं, और तो और अपने डाइट का पूरा तौर-तरीका ही बदल देते हैं। लेकिन, अगर आप सच में दुबले होना चाहते हैं तो सिर्फ अपने खाने के तौर-तरीके और उसके समय में बदलाव करें।  

कब करें नाश्ता

अक्सर यह कहा जाता है कि सुबह का नाश्ता दिन का सब से महत्त्वपूर्ण भोजन है। ऐसा इसलिए क्योंकि पूरी रात नींद लेने और 12 घंटे या इस से अधिक समय तक बिना भोजन के रहने के बाद जब आप का शरीर पोषण के लिए तरस रहा होता है, तो उस की आपूर्ति सुबह का नाश्ता ही करता है। न्यूट्रिशनिस्ट कहते हैं कि सुबह का नाश्ता आप को जागने के बाद 2 घंटे के अंदर कर लेना चाहिए।

क्या कहते है डॉक्टर

डायटिंग करना जरूरी है तो यह आपका गलत सोचना है। मोटापा घटाने के लिए कम खाना नहीं बल्कि समय पर खाना ज्यादा महत्वपूर्ण है। डॉक्टर सलाह देंते कि मोटापा घटाने के लिए नाश्ता,  दोपहर तथा शाम का भोजन समय पर होना चाहिए। मोटापा घटाना है तो  नाश्ते का सही समय सुबह 7.11 बजे दोपहर का भोजन 12.38 बजे और शाम के भोजन का सही वक्त 6.14 बजे सुझाया गया है।

दोपहर का भोजन

आपके नाश्ते और दोपहर के भोजन के बीच कम से कम 4 घंटे का अंतराल हो। दोपहर का भोजन 4:00 बजे से पहले करें। दिन के खाने के साथ सलाद भी विटामिन ए, डी, ई और के को शरीर में पहुंचाने में सहायक होता है। एक या दो रेशेदार सब्जी थकान मिटाने व फुर्ती बनाए रखने के लिहाज से अच्छी होती हैं क्योंकि इससे पेट साफ और आलस दूर रहता है।

रात का खाना

रात का खाना सोने से 3 घंटे पहले खाना चाहिए। अगर किसी वजह से इसमें देर हो जाती है तो रात के खाने की मात्र कम करें जिससे सोने में मदद मिले क्योंकि रात में सोने की वजह से शरीर की पाचन क्रिया ढीली पड़ जाती है।खाते ही सो जाने से खाना ठीक से डाइजेस्ट नहीं होता और इसलिए फैट और लिपिड बन कर स्टोर हो जाता है। खाकर तुरंत सो जाने से कब्ज की भी प्रॉब्लम होती है। तो रात के खाने का समय 7-8 के करीब रखें। इस समय खाना एकदम लाइट लें।

इन बातों का रखें ध्यान

दिन में 2 या 3 बार ही न खाएं। हर थोड़ी देर के गैप पर कुछ भी हल्का-फुल्का खाती रहें। इससे खाना फैट बनकर स्टोर नहीं होगा और आप इकट्ठे ओवरइटिंग भी नहीं करेंगी। खाने के 15 मिनट पहले सलाद खाएं। इससे बॉडी तो हाईड्रेट रहेगी ही, कब्ज़ की शिकायत भी नहीं होगी। हमारे शरीर को फाइबर्स की भी बहुत ज़रूरत है।खाने की प्लेट ज्यादा बड़ी न हो, इसका ध्यान रखें। इससे आपको प्लेट में लिया हुआ खाना भरपूर लगेगा और आप ओवरईटिंग से बच जाएंगी।

Source: Only my Health

loader