कैसे अपने राशि चिन्हों से पहचानें अपने पार्टनर का नेचर ?

अगर कोई आपसे कहता है कि आप अपना प्यार अपने भाग्य को देख कर करें तो यह गलत है। क्योंकि, यह किसी से भी हो सकता है, और ऐसे में आप राशि और भाग्य का मिलान नहीं करते हैं। हालाँकि, देखा जाये तो आपके द्वारा चुने गए रास्ते को ही आपका भाग्य एक आधार प्रदान करता है। जैसे कि यदि आप किसी रिश्ते से खुश नहीं हैं तब आप अपने लिए एक अलग रास्ते का चुनाव करते हैं। लेकिन, यदि आप अपनी जिंदगी में आगे बढ़ने से पहले अपनी कुंडली और गुणों का मिलान नहीं करते हैं तब आपको आगे चलकर नकारात्मक परिणामों को भुगतना पड़ सकता है। हालाँकि, यदि आप चाहें तब आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं और वह है अपने राशि चिन्हों का मिलान करके। क्योंकि, यह एक तरीका है जिसके जरिए आप अपने लिए एक बेहतर लव-पार्टनर ढूंढ सकते हैं। ऐसे में, निचे कुछ ऐसे राशि चिन्हों के बारे में बात की जा रही है जिसके जरिए आप अपने जीवनसाथी में उन गुणों का मिलान कर सकते हैं, जो निचे दिए जा रहे हैं-  

 मेष राशि 

मेष अग्नि चिन्ह का प्रतीक है जो धनु और लियो जैसी अन्य राशि के साथ अच्छा माना जाता है। क्योंकि, इन राशि वाले लोगों का भी अग्नि चिन्ह के साथ अच्छी जमती है। इसके अलावा, मेष, कुंभ और मिथुन राशि के साथ भी इनकी जमती है। हालाँकि, अपने भावुक गुण होने के कारण मेष राशि वालों की मीन राशि वाले लोगों के साथ नहीं जमती है।  

वृषभ

वृषभ राशि के लोग अपने जीवन में काफी व्यावहारिक होते हैं, जिसके कारण वह किसी के साथ आसानी से संबंध साझा कर सकते हैं। लेकिन, इनकी सबसे अधिक कन्या और मकर के अलावा, वृश्चिक राशि वाले लोगों के साथ काफी बनती है। लेकिन, कुछ मामलों में जब मिथुन को वृषभ राशि के साथ रखा जाता है, तब इनके रिलेशनशिप में कुछ समस्या देखने को मिल सकती है। 

मिथुन राशि

कुंभ और तुला राशि के मिलने से मिथुन राशि का विकास होता है। हालाँकि, मिथुन राशि वाले लोग दोहरी प्रवृति और बहुमुखी प्रतिभा के होते हैं। यह कुंभ, तुला, लियो और मेष राशि वाले लोगों के साथ अपनी जोड़ी बना सकते हैं। लेकिन, यह कैंसर के साथ एक अच्छी जोड़ी नहीं बना सकता है, क्योंकि यह बहुत ही डोमेस्टिक नेचर के होते हैं।  

कैंसर 

वाटर साइन होने के कारण यह काफी भावनात्मक प्रवृति के होते हैं। कैंसर राशि के लोग कन्या, वृषभ और मकर के साथ अपनी जोड़ी बना सकते हैं। इसके अलावा, धनु राशि वाले के साथ कभी भी कैंसर का मिलान नहीं किया जाना चाहिए। 

सिंह 

लियो राशि के लोग खुद को बोल्ड, अभिमानी और व्यापक मनोवैज्ञानिक होने में विश्वाश रखते हैं। ऐसे में, मेष और धनु राशि को आग के संकेतों के साथ जोड़ा जाता है, जो कि सिंह राशि के लिए एक अच्छा मैच माना जाता है। हालाँकि, सिंह राशि कुंभ राशि के साथ बहुत अच्छे तरीके से मैच होते हैं, जबकि मकर राशि के साथ इनका मैच अच्छा नहीं माना जाता है।

कन्या 

कन्या, पृथ्वी चिन्ह का संकेत होता है, ऐसे में इस राशि के लोग वृषभ और मकर राशि वाले लोगों के साथ अपनी जिंदगी जी सकते हैं। वहीँ मीन राशि के साथ, इनका विपरीत आकर्षण होता है। वहीं मेष राशि का स्वभाव किसी भी कन्या राशि वाले लोगों का अंत नहीं कर सकता है। 

तुला 

तुला राशि वाले लोग मिथुन और कुंभ राशि वाले लोगों के साथ अपनी जिंदगी व्यतीत कर सकते हैं। इसके अलावा, ये लियो, धनु, तुला राशि के साथ भी आगे बढ़ सकते हैं। तुला राशि वाले लोगों को वृश्चिक राशि के साथ आगे नहीं बढ़ना चाहिए। 

वृश्चिक

वाटर साइन होने के कारण- यह मीन और कैंसर के साथ अपनी जोड़ी बना सकते हैं। स्कोर्पियो ने अर्थ साइन के साथ मिलकर मकर और कन्या के साथ अच्छी जोड़ी बनाई जा सकती है। वहीं मिथुन राशि वाले लोगों से इन्हें बचना चाहिए। 

धनु राशि

फायर साइन होने के कारण यह लियो और मेष के साथ जोड़ी बना सकते हैं। इसके अलावा, यह कुंभ और तुला के साथ भी आगे जा सकते हैं। हालाँकि, मिथुन अपने तरीके से धनु को आकर्षित कर सकते हैं। लेकिन, अक्सर दोनों पार्टनर एक प्रतिबद्ध रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए पर्याप्त नहीं होते हैं। धनु वृषभ और मकर अपने पृथ्वी के संकेतों के साथ संगत हो सकते हैं लेकिन कन्या से दूर रहना उचित है

मकर राशि

यह अर्थ साइन के होते हैं जो कन्या और वृषभ के साथ आगे बढ़ सकते हैं। हालाँकि, वाटर साइन होने के कारण यह मीन और वृश्चिक के साथ भी अपनी जोड़ी बना सकते हैं। इसके अलावा, यह मीन, वृश्चिक, मकर के साथ भी आगे बढ़ सकते हैं। लेकिन, मकर राशि वाले लोगों को लियो के साथ आगे नहीं बढ़ना चाहिए। 

कुंभ राशि

एयर साइन होने के कारण मिथुन और तुला के साथ इनकी जोड़ी अच्छी रहेगी। इसके अलावा, कुंभ राशि के लोग धनु और मेष के साथ भी आगे बढ़ सकते हैं। हालाँकि, कुंभ राशि मकर राशि के साथ लंबे समय तक अपना संबंध बनाए रख सकते हैं। लेकिन, कन्या राशि के लोगों को इनके साथ जाने से बचना चाहिए। 

मीन राशि

चूंकि मीन पानी का संकेत है, इसलिए यह वृश्चिक और कैंसर के साथ आगे बढ़ सकता है। इसके अलावा, मकर और वृषभ के साथ जोड़ी बना सकते हैं। इसके अलावा, मीन राशि के लोगों के साथ भी इनकी खूब जमेगी। लेकिन एक मीन-लिब्रा के साथ यह जोड़ी बनाने के लिए उपयुक्त नहीं हैं। 

क्या आप अपने साथी के साथ अपने कुंडली में सुधार कर सकते हैं?

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, ज्योतिष में कोई दो राशि चक्र के लक्षण असंगत नहीं होते हैं, जबकि संगतता की डिग्री दो संकेतों के बीच अलग हो सकती है। यदि आप और आपके साथी के पास अत्यधिक संगत राशि चिन्ह हैं, तब आप दोनों का मैच अच्छे से हो सकता है। वहीं दूसरी ओर जब आपका मैच न हो हो रहा हो तब आपको थोड़ी सावधानी और धैर्यपूर्वक काम लेना होगा। लेकिन, वैदिक ज्योतिषी इस मामले में आपकी काफी मदद कर सकते हैं। ऐसे में, जब आपको बंगलौर और भारत के अन्य हिस्सों में सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषियों से परामर्श करने की आवश्यकता हो, तब आदिशक्ति एक बेहतर विकल्प है। क्योंकि, यह एक ऐसा ऑनलाइन मंच प्रदान करता है, जिसके माध्यम से आप अपनी परेशानी को खत्म कर सकती हैं। क्योंकि, बैंगलोर में आदिशक्ति को वैदिक ज्योतिषियों की सूची में सबसे भरोसेमंद एस्ट्रोलॉजर माना जाता है। क्योंकि, यह किसी भी तरह के परेशानी को हल करने में माहिर हैं। ऐसे में, अगर आप अपने प्रेम संबंध में सुधार के लिए किसी भी तरह की कोई सहायता चाहते हैं तो आदिशक्ति के साथ आज ही संपर्क करें। 

(डिस्क्लेमर: इस कॉलम में व्यक्त विचार आदीशक्ति का है। क्योंकि, जेनपैरेंट सिर्फ अपने दर्शकों के लिए विभिन्न बिंदुओं को प्रस्तुत करने का एक मंच है।)

loader