गर्भावस्था के दौरान महिलाएं भूलकर भी इन 4 जूस का सेवन न करें

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को काफी संभल कर रहने की जरूरत होती है। खासकर अगर खानपान की बात करें तो इन दिनों थोड़ी सी लापरवाही आपके लिए ख़तरनाक हो सकती है। इन दिनों किसी भी खाद्य-पदार्थों को खाने से पहले उसके बारे में जानना बहुत जरूरी है कि कहीं वह आपके शिशु को किसी तरह का कोई नुकसान तो नहीं पहुंचा रहा है।

अक्सर गर्भवती महिलाओं को लगता है कि वह जो कुछ भी खाती हैं वह उनके लिए सही है लेकिन ऐसा नहीं है। ऐसे में, आज हम आपको कुछ ऐसे जूस के बारे में बात करने जा रहे हैं जो आपके शिशु के लिए खतरा पैदा कर सकता है जो निम्न हैं-

पपीते का जूस

पपीते में लेटेक्स नामक पदार्थ की अधिकता  होने के साथ-साथ यह बहुत ज्यादा गर्म होता है। इसलिए, इसका सेवन इस दौरान भूल कर भी न करें क्योंकि यह आपके गर्भावस्था को नुकसान पहुंचा सकता है। इतना ही नहीं इसके सेवन से गर्भाशय के संकुचन प्रारंभ हो सकते हैं।

हालाँकि, इस मामले में लोगों में मतभेद है कि गर्भवती महिलाओं को कच्चे पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। जबकि, कई विशेषज्ञों का सुझाव है कि गर्भवती महिलाओं को पके हुए पपीते का थोड़ी मात्रा में सेवन करना चाहिए।

अनान्नास का जूस

एहतियात के तौर पर कई गर्भवती महिलाएं अनानास का सेवन पूरी तरह से बंद कर देती हैं। कुछ का यह भी मानना है कि ऐसे फल 'गर्म खाद्य पदार्थ' होते हैं और इनके सेवन से गर्भपात या समय से पहले जन्म हो सकता है। हालांकि, इन सब बातों का कोई प्रमाण नहीं है।

कई बार प्राकृतिक तौर पर प्रसव शुरु करने के लिए अनानास खाने की सलाह दी जाती है। मगर, अनानास के जरिये संकुचन तभी शुरु हो सकते हैं, जब इसे काफी अधिक मात्रा में खाया जाए। इसलिए अगर आप सीमित मात्रा में अनानास खाती हैं, तो तो आपको इसके पोषक तत्वों का लाभ मिल सकता है। आपको अपनी गर्भावस्था या शिशु पर इसके प्रभाव को लेकर चिंतित होने की जरुरत नहीं है।

आम का जूस

गर्भावस्था के दौरान आम खाने के बहुत से मिथक सुने होंगे। हालांकि, फलों में मौजूद पौष्टिक गुण शायद पर्याप्त हैं यह बताने के लिए कि आपको गर्भावस्था में आम का सेवन करना चाहिए या नहीं। लेकिन सावधानी के तौर पर, हम आपको यह सलाह देना चाहेंगे कि प्रेगनेंसी बहुत ही नाज़ुक चरण होता है इस दौरान आपको आम या कुछ भी खाने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। क्योंकि, आम के जूस के सेवन से आपके पेट में गैस की समस्या उत्पन्न हो सकती है जो आपके पेट में दर्द का कारण हो सकता है।  

अंगूर का जूस

डॉक्टरों की माने तो गर्भवती महिलाओं के लिए अंगूर बिलकुल अच्छा नहीं होता। अंगूर काले हो या हरे प्रेगनेंसी में कभी भी इनका सेवन नहीं करना चाहिए। विशेषकर पहले तीन महीनों में। क्योंकि इन्हे खाने से शरीर में गर्मी बढ़ती है जो गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक होती है।

इन सब के अलावा, डॉक्टर इन दिनों कॉफी का भी अधिक मात्रा में सेवन करने की सलाह नहीं देते हैं।

अगर आपको जूस पीनी ही है तब आप चुंकदर, अनार आदि का जूस पियें। क्योंकि, यह प्रेग्नेंसी के दौरान मां और बच्चे के लिए फायदेमंद होता है। चुकंदर और अनार में फाइबर, फोलेट और विटामिन सी होता है। इसके साथ ही यह रक्त के प्रवाह में सुधार होता है जो प्रेग्नेंसी के दौरान अच्छा होता है।

loader