इन 4 तरीकों से सिखाएं बच्चों को बोलना

ज्यादातर बच्चे 9 महीने की उम्र से एक-एक शब्द बोलना शुरू करते हैं, जैसे कि मामा, बाबा, पापा आदि। लेकिन, कुछ बच्चे ऐसे भी होते हैं जो बोलने में थोड़ा ज्यादा समय लेते हैं। ऐसे में, यह पेरेंट्स के लिए चिंता का विषय बन जाता है। हालांकि, जब आपके बच्चे एक निश्चित उम्र में आने के बाद भी नहीं बोल पा रहे हों तब आप कुछ तरीके अपना सकती हैं, जो निचे दिए जा रहे हैं-

बच्चों के साथ खूब बातें करें

बच्चों को बोलने के लिए यह एक बेहतर तरीका है, क्योंकि जब आप अपने बच्चे से ढ़ेर सारी बातें करते हैं तो वह उन बातों को समझने और बोलने की कोशिश करता है। अपने बच्चों से बात करते समय एक बात का और ध्यान रखें कि आप जो शब्द का इस्तेमाल कर रही हों वह ज्यादा भारी-भरकम न हों। क्योंकि, ऐसे शब्द बच्चे बिल्कुल भी समझ नहीं पायेंगें। इसलिए बच्चों के साथ आसान और सरल भाषा में बात करें।

दूसरे बच्चों के साथ खेलने के लिए छोड़ें

यह बिल्कुल सच है कि बच्चे अपने हमउम्र के बच्चों के साथ बोलना जल्दी सीखते हैं। क्योंकि, बच्चे इस उम्र में एक दूसरे की भाषा को अच्छी तरह समझते हैं। ऐसे में, अपने बच्चों को उनके ही उम्र के बच्चों के साथ खेलने के लिए छोड़ें।

शब्दों को दोहराएं

अपने बच्चों के सामने उन शब्दों को दोहराएं, जो आप उन्हें सिखाना चाहती हैं, क्योंकि बच्चे एक ही शब्द को जब बार-बार सुनते हैं तो उस चीजों को वह आसानी से याद कर सकते हैं। ऐसे में, आप अपने बच्चे के सामने एक ही शब्दों को बार-बार दुहरायें।

सोते समय लोरी या कहानी सुनाएँ

बच्चे किसी भी बात को सोने के दौरान सबसे अधिक पकड़ते हैं, क्योंकि इस समय उनका दिमाग बिल्कुल शांत होता है। ऐसे में, अपने बच्चों को सुलाते समय लोरी, कहानी या संगीत सुनाएं।

इसके बावजूद यदि आपके बच्चे के बोलने में कोई विशेष फर्क नहीं पड़ रहा हो, तो डॉक्टर की जरूर सलाह लें। ताकि, डॉक्टर समय रहते इसका इलाज़ कर सकें।

आपकी बिंदु– एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/community पर भेज सकते हैं।

प्रेगनेंसी और पेरेंटिंग पर विशेषज्ञों की सलाह प्राप्त करें, अन्य माओं के साथ चैट करें और अपने बेबी के लिए अधिक से अधिक विशेस डील्स जीतें ।हमारे साथ तुरंत रजिस्टर करें।

loader