सिजेरियन के बाद इन 7 तरीकों से तुरंत पाएं आराम

सीजेरियन प्रसव के बाद विशेष देखभाल

आज के समय में नॉर्मल डिलीवरी की अपेक्षा सी-सेक्शन का क्रेज ज्यादा बढ़ गया है। हालाँकि, देखा जाए तो प्रसव की दोनों ही प्रक्रिया बिल्कुल अलग है, जहाँ सामान्य प्रसव में बच्चे को योनि के रास्ते से असहनीय पीड़ा के साथ जन्म देना पड़ता है। जबकि, दूसरी ओर पेट में चीरा लगा कर शिशु को निकाला जाता है। लेकिन, कुछ महिलाएं यह भूल जाती हैं कि कुछ देर के दर्द को सहन करना ज्यादा अच्छा होता है। क्योंकि, सी-सेक्शन में जब आपका बच्चा पैदा होता है तब आपको दर्द का अहसास नहीं होता है लेकिन, बाद में इसका दर्द बहुत दिनों तक रहता है। ऐसे में, जितना हो सके सामान्य प्रसव की ओर महिलाओं को ध्यान देने की जरूरत है। जब आपका मेडिकल स्थिति सही न हो तब आप सी-सेक्शन का सहारा लें।

आमतौर पर, ऑपरेशन से बच्चे का जन्म होने के बाद मां के शरीर को विशेष आराम और देखभाल की जरूरत होती है। अगर किसी स्त्री का प्रसव सिजेरियन तरीके से हुआ हो तो उसे ठीक होने में कम से कम 6 महीने का समय लगता है। लेकिन, कुछ ऐसे तरीके हैं जिसके जरिए आपको जल्दी से ठीक होने में मदद मिलेगी, जिनमें निम्न शामिल हैं-

पेनकिलर्स लें

सी-सेक्शन के बाद दर्द का होना बेहद आम बात है, जो कि दो हफ्ते तक रहता है। लेकिन, इसके लिए आपको डॉक्टर पेनकिलर्स लेने की सलाह देते हैं जिससे कि आप जल्दी से इस दर्द से छुटकारा पा सकें। इसके लिए डॉक्टर आपको एंटी-इंफ्लेमेटरी मेडिसिन जैसे कि इबुप्रोफेन और एक नार्कोटिक दर्द निवारक लेने की सलाह दे सकते हैं।

प्रोबायोटिक्स लें

सर्जरी के दौरान दिए गए एंटीबायोटिक्स आपके पेट में स्वस्थ बैक्टीरिया को हटाने का काम करता है। ऐसे में, अपने डॉक्टर से बात करें कि वह आपको प्रोबायोटिक्स दें, जिससे कि आपको दस्त से राहत मिल सके और साथ ही आपके पेट में दुबारा से हेल्दी बैक्टेरिया का विकास हो। क्योंकि, यह बैक्टेरिया न केवल आपको जल्दी से ठीक होने में मदद करेगा बल्कि आपके इम्युनिटी को भी बढ़ाने का काम करता है।

टांके वालों जगहों की विशेष देखभाल करें

जिस जगह पर टांके लगे हों उस जगह की साफ-सफाई का विशेष तौर पर ध्यान रखें। क्योंकि इन जगहों पर सबसे अधिक संक्रमण होने का खतरा रहता है। इसलिए, कोशिश करें कि इन जगहों को सूखा और संक्रमण से बचा कर रखें। ताकि आप जल्द से जल्द ठीक हो सकें।

शिशु को स्तनपान कराएं

इस समय आपके लिए जो सबसे ज्यादा जरूरी चीज़ें हैं वह हैं शिशु  स्तनपान कराना, लेकिन इसे कराने में आपको काफी तकलीफ हो सकती है। इसके लिए जब भी आप शिशु को ब्रेस्टफीडिंग कराएं तो इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आप किसी सपोर्ट के सहारे उसे दूध पिला रही हों। क्योंकि, इससे आपको तकलीफ और दर्द नहीं होगा।

भारी सामान उठाने से बचें

ऑपरेशन के बाद कम से कम 2 महीने तक भारी वजन न का सामान न उठाये। क्योंकि, इससे ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है। क्योंकि, सीजेरियन प्रसव के बाद महिला को ऐसे कोई भी काम नहीं करने चाहिए, जिससे कि पेट पर जोर पड़े, अन्यथा टांकों के फूलने या सूजने का डर रहता है।

चलना शुरू करें

सी-सेक्शन में ऐसा माना जाता है कि आप जितनी जल्दी चलना शुरू करेंगी उतनी ही जल्दी आपको ठीक होने में मदद मिलेगी। क्योंकि, जब आप ऑपरेशन रूम से निकल कर सामने आते हैं तो ऐसा लगता है मानो कि आप दुबारा कभी नहीं चल पाएंगी। लेकिन, जैसे ही आपको डॉक्टर चलने-फिरने की सलाह देते हैं वैसे ही आपको चलना शुरू कर देना चाहिए। क्योंकि, इससे आपका सर्कुलेशन बढ़ेगा और ब्लड क्लॉट का खतरा भी कम रहता है। साथ ही आपका पेट भी अच्छे से कार्य करना शुरू कर देगा, जिससे कि आपको जल्दी से ठीक होने में मदद मिलेगी।

उचित खान-पान का ध्यान रखें

सी-सेक्शन के बाद अगर आप चाहती हैं कि आप जल्दी से ठीक हो जाएं तो इसके लिए आपको अपने आहार में एंटी-इंफ्लामेटरी और विटामिन-सी को शामिल करना होगा। क्योंकि, विटामिन सी कोलेजन को बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही यह आपके टिश्यू को रिपेयर करने में मदद करता है। इसके अलावा, आप अपने आहार में ओमेगा-3 फैटी एसिड जैसे कि नट्स और सीड्स को शामिल कर सकती हैं।

मॉर्डर्न मोना- मदर लाइफस्टाइल! एक दैनिक कॉलम, जहाँ महिलाओं से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है।  जैसे- स्वास्थ्य, फैशन, फिटनेस, बच्चों का रख-रखाव, मनोरंजन, सेक्स आदि की जानकारी के लिए आप अपने सवाल इस ईमेल https://zenparent.in/communityपर भेज सकते हैं।

Feature Image Source

loader