बच्चों में किशोरावस्था के दौरान पेरेंट्स इन 5 बातों का ज़रूर रखें ध्यान

जैसे ही आपके बच्चे अपने किशोरावस्था में कदम रखते हैं, वैसे ही एक पेरेंट्स होने के नाते आपकी जिम्मेदारियां बढ़ जाती हैं। क्योंकि, बच्चे जैसे ही टीनएज में पहुँचते  हैं, उन्हें अच्छे-बुरे का पता नहीं चलता है। खासकर दिल के मामले में वह बहुत बेकाबू हो जाते हैं, और कभी-कभी वह गलत कदम भी उठा लेते हैं। ऐसे में, एक पेरेंट्स की ज़िम्मेदारी यह होती है कि आप अपने बच्चों का सही मार्गदर्शन करें, ताकि वह सही रास्तों पर चल सकें।

 

हालाँकि, एक पेरेंट्स को अपने बढ़ते बच्चों में इन बातों पर विशेष तौर पर ध्यान देना चाहिए, जिनमें निम्न शामिल हैं-

 

शारीरिक बदलाव

493x335_teen_guy_puberty_rmq

बच्चे जैसे ही बड़े होते हैं, उनमें बहुत सारे शारीरिक बदलाव होने शुरू हो जाते हैं, जिससे कि उनमें घबराहट पैदा होने लगती है। ऐसे में, परेंट्स होने के नाते आप उन्हें प्यार से समझाएं कि इस तरह के शारीरक बदलाव सामान्य हैं, जिससे कि हर कोई गुज़रता है।

 

अपोजिट सेक्स के प्रति आकर्षण

Teenage couple in love drawing hearts instead of learning ** Note: Soft Focus at 100%, best at smaller sizes

टीनएजर्स में अपोजिट सेक्स के प्रति आकर्षण उत्पन्न होना बेहद आम बात है क्योंकि, यह हार्मोनल परिवर्तन के कारण होता है। हालाँकि, पेरेंट्स को इस विषय में अपने बच्चों से खुल कर बात करनी चाहिए, ताकि बच्चे किसी गलत संगत में न पड़ जाएँ। ऐसे में, आप अपने बच्चों को सेक्स के बारे में बताएं और उनके इस अट्रैक्शन को पॉजिटिविटी में बदलने की कोशिश करें।  

 

पीरियड्स (मासिक धर्म)

Missed-Periods-In-Teenagers

लड़कियों में किशोरावस्था के दौरान पीरियड्स का होना एक नेचुरल प्रोसेस है, जो हर लड़कियों में होता है। ऐसे में, आप अपनी बेटी को इसके बारे में बताएं ताकि वह अचानक से पीरियड्स होने के दौरान डर न जाएँ। उन्हें समझाएं कि इस उम्र में पीरियड्स हर लड़कियों में सामान्य रूप से होता है, जो अच्छा माना जाता है।

 

प्यूबर्टी

puberty3

अपने बच्चों को प्यूबिक हेयर, आवाज़ में बदलाव, पिम्पल्स, हार्मोनल चेंज आदि बारे में जरूर बताएं। ताकि जब आपके बच्चे में इस तरह के बदलाव आएं तो इसके बारे में वह पहले से ही प्रीपेयर रहें।

 

बच्चों का गलत दिशा में बढ़ना

CS11691201

इस उम्र में कुछ बच्चे गलत संगत और गलत चीजों के आदि हो जातें हैं, जैसे कि सिगरेट या शराब की लत आदि लग जाती है। ऐसे में, आप अपने बच्चों के रोल मॉडल बनने की कोशिश करें, साथ ही उनके दोस्तों पर नज़र रखें कि कहीं वह गलत संगत में तो नहीं है।

 

 

आपकी बिंदु- एक दैनिक कॉलम है, जहाँ आपको हर मर्ज़ की दवा मिल सकती है। इसके लिए आप घरेलू नुस्खे, हेल्दी फ़ूड से लेकर तमाम सभी चीज़ों की जानकारियों और अपने सवाल इस ईमेल aapkihindieditor@zenparent.in पर भेज सकते हैं।

 

loader