आख़िरकार पता चल ही गया मोटापे का सबसे बड़ा कारण !

मोटापा आज के समय में लोगों के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन गई है, क्योंकि इस समस्या से हर कोई परेशान है। इतना ही नहीं लोग इससे बचने के लिए न जाने क्या-क्या तरकीबें नहीं अपना रहें हैं लेकिन फिर भी कोई फायदा दिखाई नहीं देता है। लेकिन, लोगों को सबसे पहले यह जानने की कोशिश करनी चाहिए कि मोटापे की असली वजह क्या है। क्योंकि, जिस दिन आप इसके कारण का पता लगा लेंगे उस दिन आप इस समस्या से बहुत जल्द छुटकारा पा सकते हैं।

हालाँकि, सबसे अधिक मोटापे की समस्या उनलोगों में होती है जो अपने खान-पान या लाइफस्टाइल का ध्यान नहीं रखते हैं। इतना ही नहीं, कुछ लोगों को यह तक पता नहीं होता है कि कौन सी चीज़ें कब खानी चाहिए और कब नहीं। खासकर अगर, ब्रेकफास्ट की बात करें तो इस दौरान लोगों को यह पता नहीं होता है कि इस समय ब्रेकफास्ट की शुरुआत किन खाद्य-पदार्थों से की जानी चाहिए।

इसलिए, निचे कुछ ऐसी बातें बताई जा रही हैं जिसका प्रयोग कुछ लोग ब्रेकफास्ट के दौरान करते हैं, और यही कारण है कि उनमें सबसे अधिक मोटापे की समस्या देखने को मिलती है, जिनमें निम्न शामिल हैं-

तली-भुनी चीज़ों का सेवन

कुछ लोग सुबह के नाश्ते में तली-भुनी चीज़ों का सेवन अधिक करते हैं जैसे कि तली हुई पूरी, पराठे वो भी बटर के साथ, पकौड़े आदि। शायद आपको पता भी नहीं होगा कि जो लोग अधिकतर ब्रेकफास्ट में ऐसी चीज़ें खाते हैं उनमें सबसे अधिक फैट बनता है। क्योंकि, रात के बाद यानि की एक लंबे अंतराल के बाद आप जो भी खाती हैं वह आसानी से पचने वाला होना चाहिए न कि हैवी। इसलिए ब्रेकफास्ट में इन चीज़ों को खाने से बचें, क्योंकि इनमें बहुत अधिक कैलोरी होती है जो आपके मोटापे को बढ़ाने का काम करता है।

चाय पीना

कुछ लोग नाश्ते के टेबल पर बैठे जरूर होते हैं, लेकिन सबसे पहले खाली पेट चाय पीते हैं। उन्हें इस बात का अंदाज़ा भी नहीं है कि उनके लिए यह कितना खतरनाक होता है। क्योंकि, इससे आपकी भूख खत्म हो जाती है और यह गैस बनाने का काम बखूबी करता है। इससे न केवल आपको गैस की समस्या होती है बल्कि खट्टी डकारें और सीने में जलन जैसी समस्या भी उत्पन्न होने लगती हैं। इसलिए, कोशिश करें कि आप नाश्ते के बाद ही इसका सेवन करें।

मीठे का सेवन

यदि आप सच में चाहती हैं कि आपका बॉडी स्लीम हो तो इसके लिए आपको न केवल ब्रेकफास्ट में बल्कि ऐसे भी मीठे का सेवन न के बराबर करें। अगर आप बहुत अधिक मीठे की शौक़ीन हैं तो इसके लिए ब्रेकफास्ट के समय को न चुनें बल्कि दोपहर या शाम के समय लें वो भी रोजाना खाने से बचें। मीठे के लिए आप गुड़ या डार्क चॉकलेट का प्रयोग कर सकती हैं। क्योंकि, ब्रेकफास्ट में मीठे खाद्य पदार्थों जैसे कि पैस्ट्री, मिठाई जैसी चीजों को खाने से यह आपके  इम्युनिटी सिस्टम को कमजोर बना देता है।

वसा युक्त खाद्य पदार्थ

कुछ लोग सुबह के नाश्ते में बटर या तेलयुक्त भोजन करना पसंद करैत हैं, लेकिन वह यह भूल जातें हैं कि इसमें खराब वसा की उच्च मात्रा होती है, जो स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालती है। इतना ही नहीं, इसके सेवन से मोटापा और कोलेस्ट्रॉल का खतरा भी बहुत बढ़ जाता है। जो व्यक्ति के ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित करता है, इसलिए सुबह के समय ऐसे खाद्य पदार्थों से दूर रहें।

डब्बा बंद जूस का सेवन

अक्सर नाश्ते के टेबल पर डब्बा बंद जूस पड़े होते हैं, और लोग बिना समझे इसका सेवन करते हैं। लेकिन, वह यह भूल जाते हैं कि इनमें बहुत अधिक मात्रा में शुगर होती है जो आपके मोटापे को बढ़ाने का काम बखूबी करती है। इसलिए, सुबह यदि आप जूस पिएं भी तो घर का बना हुआ फ्रेश जूस पिएं। अगर जूस संभव न हो तब आप फल भी खा सकती हैं, जो कि आपके बॉडी को बहुत अधिक मात्रा में फाइबर देने का काम करता है।  

आधा पेट नाश्ता करना

जो लोग डाइटिंग करते हैं वह आधा पेट नाश्ता करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि कम खाने से वह दुबली होंगी। जबकि, ऐसा नहीं है क्योंकि जब आप कम खाते हैं तब आपको बहुत अधिक भूख लगती है और आप दिन में कई बार खा लेती हैं। इसलिए, सुबह का नाश्ता भर-पेट करें।  

सुबह ब्रेकफास्ट में किन चीज़ों को शामिल करना चाहिए ?

सुबह के नाश्ते में आप पोहा, उपमा, अंडे, दलिया, जई, फलों का सलाद, दाल, सोया, मल्टीग्रेन डोसा, सांबर,अंकुरित दालें, सब्जियों के सैंडविच, मक्का, कम वसा वाले दूध और दही, लस्सी, ताजे फलों का जूस, सेब, केला, तरबूज आदि चीज़ों को शामिल कर सकते हैं। क्योंकि, सुबह आप जो कुछ भी खाते हैं उससे आपके शरीर को पूरे दिन ऊर्जा मिलती है।

Feature Image Source: newsapi.com.au

loader