30 के बाद वजन कम करने के मिथ

 

हर किसी को वजन कम करने का फितूर होता है। क्योंकि  किसे नहीं अच्छा लगता है कि वो अपनी पुरानी जीन्स में फिट हो सके। हम वजन कम करने के लिए अंधेरे में तीर मारने का काम करते हैं। क्योंकि हम सही तरीके से काम नही करते हैं। इसके साथ ही लोगों को ऐसा भी लगता है कि 30 के बाद वजन कम करने में बड़ी मुश्किल आती है।

1मिथ- जब 20 की थी तब योगा करती थी और वजन कम किया था। अब भी वो फार्मूला काम करेगा।

ये बात जब मैंने अपने फिटनेस गाइड को बोली तो उन्होंने सिर्फ दो बात कही हार्माेन और मेटाबाॅलिज्म। ये हमारे 20 साल की उम्र में ऐसा काम करते हैं कि हम आॅयली स्पाइसी खाते हैं और हल्के एक्र्ससाइज पर ही फिट रहते हैं। 30 की उम्र में आपका मेटाबाॅलिज्म उतना सही काम नही करता है। पहले की तरह कैलोरी नही बर्न हो पाती है। गर्भवती होने के बाद या किसी और वजह से भी आपका मेटाबाॅजिल्म भी कम होता है। इसलिए वही एक्र्ससाइज अब काम नही करेगी अब जरूरी है बदलाव की।

2 मिथ- अगर खाना नही खाएंगे तो पेट कम हो जाएगा

जल्दी से वजन घटाना और फैंसी डाइट खाना आकर्षित करता है। साउथ बीच डाइट, आइस्क्रीम डाइट, और शिल्पा शेट्टी की डाइट ये सब इंटरनेट  पर मौजूद है। ये सारी अनहेल्दी होने के साथ ही हानिकारक भी हो सकती हैं। ये वजन तो कम करते हैं मगर उतनी ही तेजी से वजन भी वापस आ जाता है। इसके लिए सिर्फ एक ही रास्ता है कि जंक और अनहेल्दी से दूरी बनाएं। इसके साथ ही एक्र्ससाइज बहुत जरूरी है।

3-मैं खूब कार्डियो करती हूं मेरा वजन जल्दी कम होगा

आप खूब स्वीमिंग करती हैं, स्प्रिंटिंग के साथ ही पूरे दिन डांस करती है। फिर आप गुब्बारे की तरह हैं।हमको कुछ कम करने की जरूरत है उसे मसल मास कहते हैं ये टोन्ड लुक के लिए जरूरी है। इसके लिए कार्डियो के साथ काॅम्बीनेशन करने की जरूरत होती है।

[bmi_calculator cmp_url=”https://zenparent.in/parenting/4-best-weighing-scales-under-rs-1000″ cmp_url_text=”Find the Perfect Weighing Machine for You” pre_text=”Start Getting Fit and Monitor Your Progress with a Weighing Machine”]

4-मिथ- थोड़ा-थोड़ा खाना बुरा है

असल में स्नेक्स से हमारे मेटाबाॅलिज्म को मदद मिलती है। इससे हमारा प्रोटीन साइज बढता है। इससे हमको तीन बार खाने के बजाय वैराइटी में न्यूटिरीशन मिलता है।

5-मिथ- कार्ब और खाना को कम करने से पेट होगा कम

मेरे पति ने ये एक बार आजमाया था। उनको कोई न कोई बहाना मिल जाता था नाश्ता न करने का। ऐसे में पेट कम होने बजाय उनका पेट और बढ गया। खाना समय पर नहीं खाने से या नहीं खाने से मेटाबाॅलिज्म के नुकसानदायक है। इसके अलावा साबूत अनाज के कार्ब नुकसान नहीं पहुंचाते।

breakfast

6-मिथ-हम कुछ भी खा सकते हैं क्योंकि हम वर्कआउट कर रहे हैं

खैर ये बात बीस साल के उम्र वालों के लिए सही है। मगर तीस या उसके ज्यादा की उम्र में अपनी कैलोरी पर नजर रखना जरूरी है। हर बार अगर आप ऐसा कर पाएंगी तो आपको पता रहेगा कि आप क्या खाती हैं और कितना स्वस्थ खाती हैं।

7-मिथ- 30 के वजन कम होना संभव नही है

खैर ये सबसे बड़ा झूठ ये सही है कि कैलोरी बर्न करना और हार्मोन को बदलना कठिन है। हमेशा किसी को दोष देना ठिक नही है। बस इस बात ध्यान रखें कि चलते-फिरते रहें और वजन के साथ ही न बातों को दूर करें।

loader