बच्चे की सेहत को सर्दी की नज़र न लगे

सर्दी में बच्चों का खास ख्याल रखना होता है। इस दौरान आसानी से सर्दी लग जाती है और फिर खांसी, जुकाम जैसी समस्या होती है। ठंडी के मौसम जितनी जरूरी है उनको गर्म कपडे़ पहनाना। उतना ही जरूरी है उनकी डायट और आदतें भी बहुत मायने रखती हैं। इसलिए इस सर्दी सिर्फ कपडे़ की गर्म नहीं हो देखभाल में भी गरमाहट लाना जरूरी है।डाइट में हेल्थ की गरमाहटवैसे तो बच्चों को केक, कैंडी और पेस्ट्री खाने में ज्यादा मज़ा आता है। इस दौरान डाइट में कुछ हेल्दी फूड को शामिल करें। उसके खाने में ऐसी चीजें शामिल करें जिसमें फाइबर, प्रोटीन और भरपूर न्यूट्रीशसन हों। इस मौसम में हरी सब्ज़ी को खास महत्व दें। सर्दी के मौसम में अनेकों तरह की हरी सब्जि़यां बाज़ार में मौजूद रहती है। उनको घर लाएं और कुछ नया बनाएं। हां, एक बात और सर्दी का ये मतलब कतई नहीं है कि पूरा दिन बच्चे को रजाई में रखें। फिज़कल एक्टिविटी भी जरूरी है। इससे बच्चे का शरीर मजबूत होगा और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढेगी।धूप से त्वचा को न हो नुकसानसर्दी की गुनगुनी धूप हर किसी को अच्छी लगती है। सूरज के दर्शन होते ही लोग धूप में जम जाते हैं। ध्यान रखें ये धूप अच्छी तो लगती है मगर यूवी किरण त्वचा को नुकसाना पहंचा सकती हैं। इसलिए बिना सनस्क्रिन लोशन लगाए बाहर न जाएं।एक नहीं कई हो कपडे़बच्चे स्कूल जाते हैं तो स्वेटर पहनने में बहुत न नुकुर करते हैं। एक बार स्कूल जाने के बाद जैसे ही धूप निकलती है। बच्चे फटाफट से स्वेटर उतार फेंकते हैं। इसलिए उनको सिर्फ एक स्वेटर न पहनाएं। बच्चों को कई लेयर में कपडे़ पहनाएं ताकि एक उतारने के बाद उनको सर्दी न लगे। क्योंकि जब शाम होती है और तापमान कम होता है तो सर्दी बढ जाती है।पानी पिलाएं सर्दी में बड़ों के साथ बच्चे भी पानी पीना कम कर देते हैं। ठंडी में मौसम रूखा रहता है। इसलिए हमारे सिस्टम को हायडेªट रखना जरूरी है। इसलिए त्वचा की नमी बरकरार रखने के लिए पानी जरूर पिलाएं।नहाने का साबुन और तेल हो जरूरमौसम रूखा रहता है तो इस सर्दी साबुन जरूर बदल दें। ऐसा साबुन इस्तेमाल करें जिसमें गिलेस्रीन हो। बच्चों बाॅडी आॅयल से रोज मालिश करें जैसे नारियल तेल, आॅलिव आॅयल इसमें विटमिन ई फैटी एसिड होता है।नहाने का समय हो कमबच्चों को गर्म पानी और गुनगुने पानी में रहना पसंद होता है। गुनगुने शाॅवर और गरम पानी त्वचा को नुकसान पहंचाता है। इसलिए ज्यादा देर तक पानी में न रहने दें। नहाने के बाद माॅश्चराइजर भी जरूर लगाएं। Featured image Jyotee shrivastava with her daughter
loader