Easy Tips


बच्चो के लिए शहद से बने  घरेलू नुस्खे   

शहद एक  महत्वपूर्ण  औषिधि  है जो हम बहुत पुराने  समय  से प्रयोग  करते आ रहे है और इसका प्राकृतिक दवा  के रूप  में इस्तेमाल भी होता  है.  बच्चों को ज़्यादा दवा नही  दिया जा सकता  है इसके लिए हम घर में शहद से बनी हुई  दवा या नुस्खों  का प्रयोग कर सकते है जो मीठा भी होता है और बच्चे आसानी से दवा के रूप में खा भी लेते है |

सावधानियां :–  शहद  को एक साल से  कम उम्र वाले बच्चो ना दें |

-गले  के छाले  के लिए  : नवजात  बच्चो  में  मुह में छाले की ये दिक्कत अधिकतर  होती है | इससे राहत पाने के लिए शहद में अदरख़ और नींबू  मिक्स  करे,इसके इस्तेमाल से टॉन्सिल यानि मुंह के छाले में काफी आराम मिलता है |

-सर्दियों  में फायदा  :- जुकाम का होना  या मौसम में आम बात है. ज़्यादातर छोटे बच्चों  एवं बड़े बूढ़े  को कोल्ड हो जाता है.ऐसे में सर्दी से राहत के लिए  शहद  में नीबू  क़ो मिक्स करे और बच्चे को दिन में दो बार दें |

cold

-पेट में दर्द होना :-पेट के दर्द से छुटकारा पाने की लिये  शहद में अदरक  को मिलाये फिर इसे एक या दो टी स्पून खा ले इससे आपको पेट की तकलीफ़ से बहुत राहत  मिल जाएगी।

4 :-दांतो के दर्द से छुटकारा पाना :-लौंग को शहद  में मिलाकर बरनी में रख दे,जब  कभी आपके दांतो में तकलीफ हो तो लौंग  दांतो के बीच कुछ देर के लिए रख लें, इसके प्रयोग से आपके दाँत दर्द में बहुत ही फायदा मिलता है

ginger-honey

5 :-अपच से राहत पाने के लिये :-बच्चो में बेहद एसिडिक इन्फ्लेमेशन की शिकायत होती है| जो असमय खान-पान  से पाचनशक्ति में  दिक्कत होने के कारण  हो जाती है ,इसके लिए शहद में सिरके को मिला कर प्रयोग करने से  अपच (indigestion) से राहत मिल सकता है
 
6 :-रूखी त्वचा के लिए :- इसके  लिए  सबसे  पहले एक कप शहद में और दो टेबलस्पून दूध एवं दो टेबलस्पून संतरे का रस को एक साथ मिक्स करके पेस्ट बना ले और ड्राई स्किन एरिया पर लगा ले. अधिकतर रूखेपन की  शिकायत बच्चो में पायी जाती है. क्योंकि ये अक्सर  धूप  में रहने से  स्किन में  दिक्कत  हो जाती है.
 
7:-चकत्ते वाली त्वचा-  patchy स्किन होने के कारण त्वचा बेजान दिखती है,ऐसी त्वचा को  सामान्य स्किन  बनाने  लिए घरेलू नुख्से  का इस्तेमाल कर सकते है,जिसके लिए ब्राउन शुगर में शहद को अच्छी तरह से मिक्स करके बच्चो और  किशोर व्यकित धीरे -धीरे मलने से रूखी स्किन से निजात पाया जा  सकता  है.
clove-honey

8:-  मुहांसो का इलाज़:-बच्चे जब बड़े होते है तो मुहांसो की दिक्कत आमतौर  होती है, ऐसी स्तिथि में दही में शहद को मिलाए  थिक (गाढ़ा) पेस्ट बना ले  और  15 मिनट के लिए लगाकर  छोड़ दे ,सूख जाने के बाद रुई से आराम से रिमूव कर दें |

9:-मांशपेशी के निचले तल पर छालो का होना:- बच्चो  और बुज़ुर्ग के शरीर  में अक्सर पानी की कमी (dehydrations) से मांशपेशी में छाले हो जाते है,ऐसी िस्थति में घर में बनी  हुई  दवा का प्रयोग कर सकते है | इसके लिए आपको कोकोनट वॉटर में शहद मिलकर पीने  से dehydreation की शिकायत दूर  है |

10:-पैर में पसीने से राहत- पैर में अधिक पसीना होने की वजह से त्वचा में दाद वायरस से संक्रमण हो जाने से बच्चे से लेकर  बङो को कई मुसीबत  सामना करना पड़ता है,इससे निजात  के लिए शहद में शुगर क्रीम मिक्स करें, इफेक्टेड एरिया पर लगा दें।  काम से काम दो बार रोजाना लगाये.

11:-मेटाबोलिज्म को बढ़ाने :-अपने बच्चों  मेटाबोलिज्म को कायम रखने के लिए, कप गरम पानी में शहद और नींबू  के रस को मिलाकर रोज़ सुबह खाली पेट पीने से  सेहतमंद रह सकते है | ऐसा करने आपके बच्चो की वज़न भी काफी हद तक अच्छी हो जाती हैं |

12:-एड्स में लंबे समय तक बुखार होना:- एड्स में क्रोनिक फीवर से बचाव के  लिये, एक कप  गरम  पानी में तुलसी का पत्ता डाल कर चाय बना ले फिर इसमें एक टीस्पून शहद दे, और बच्चे को अगर क्रोनिक फीवर है तो  दिन में दो बार  बच्चों को  पिला दे.  ऐसा करने आपके बच्चे को बहुत आराम मिलेगा|

honey-tulsi

13:-मुख में फोड़ा (अलसर) होना:-अल्सर होने से तुरंत छुटकारा पाने  लिए  हल्दी मिक्स करके गाढ़ा  बना करे फोड़े वाले  एरिया पर 15 -20 मिनट के  लगा दे। फिर इसे गरम  पानी से धो दें | और इसका रिजल्ट तुरंत देख सकते  है।

14 :-दमा पर  नियंत्रण पाना:- बच्चों को जब  अक्सर ये एलोपैथिक दवाओ को खाने में कतराते है जिसके लिए अस्थमा में रोक थाम  के लिए,घरेलु से निजात पा सकते है,शहद मे आवँला (मुरब्बा) मिला दे या डीप कर दें इस मिक्सचर को बच्चे को दिन में दो -तीन बार देने आराम मिल सकता है | मुरब्बे को  बच्चे  आराम से दे दवा के रूप में खा लेते है और जो इनको काफी लाभप्रद होता है।

 

टीस्पून शहद दे,शहद एक महत्वपूर्ण  औषिधि

Published On  March 20, 2017 By